अजीत जोगी जाति प्रकरण में जोगी परिवार को पक्षकार बनाए जाने पर सरकार की आपत्ति पर JCCJ अध्यक्ष अमित जोगी बोले बाबा साहेब के संविधान ने हमे न्यायालय और जनता के बीच जाने की व्यवस्था दी है जिसे कोई सरकार रोक नहीं सकती है

स्वर्गीय श्री अजीत जोगी जी के जाति प्रकरण में उनके स्वर्गवास के उपरांत उनकी पत्नी और पुत्र को पक्षकार बनाए जाने पर राज्य सरकार की आपत्ति और विरोध पर JCCJ अध्यक्ष अमित जोगी ने अपनी प्रतिक्रिया देते ट्वीट करके कहा कि मेरे पिता स्वर्गीय अजीत जोगी जी अपनी जाति के सम्मान की लड़ाई उच्च न्यायालय में लड़ रहे थे। उनकी ये लड़ाई मेरी माँ और मैंने जारी रखने का आवेदन किया है। समझ से परे है कि इसमें भी किसी को क्या आपत्ति हो सकती है?
अमित जोगी ने कहा कि अगर सरकार को लगता है कि वो हमें न्यायालय और चुनाव के मैदान में अपना पक्ष रखने से ही वंचित कर सकती है, तो यह केवल उसके घमण्ड और ग़ुरूर को दर्शाता है। पापा की ही तरह मेरी माँ और मुझे, बाबा साहब अम्बेडकर द्वारा स्थापित संवैधानिक व्यवस्था में पूरी आस्था है जिसके रहते न्यायपालिका की शरण और जनता के बीच में हमें जाने से कोई नहीं रोक सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *