अमित जोगी पर छत्तीसगढ़ की बहनों को है गर्व – अनामिका पाल* *भाई बहन के पवित्र रिश्ते पर अमित ने छोड़ी अमिट छाप,(,सीएम हाउस के सामने आत्महत्या)स्व योगेश की बहनों के संग प्रतिवर्षानुसार रक्षाबंधन का पर्व अमित जोगी ने मनाया, भाई होने का फर्ज निभाया

*इकलौता भाई योगेश साहू को खोने के बाद दुःखी तीन बहनों के सर अमित ने रखा था हाथ।*

*अमित ने कहा था भाई योगेश साहू तो नहीं बन सकता पर उसकी कमी को पूरा करने का प्रयास करूंगा।*

*ऐसी सरकार बनाएंगे, जहाँ शराब और बेरोजगारी की वजह से न कोई भाई अपनी बहन से और न कोई पति अपनी पत्नि और बच्चों को छोड़कर आत्महत्या करेगा – अनामिका*


रायपुर, छत्तीसगढ़, दिनांक 3 अगस्त 2020। महिला जनता काँग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती अनामिका पाल ने कहा छत्तीसगढ़ की बहनों को अमित जोगी पर गर्व है, अमित जोगी जो कहते है उसे कर दिखाते है, अपने पिता छत्तीसगढ़ राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री जन जनायक स्व अजीत जोगी की तरह श्री अमित जोगी रिश्तों को अहमियत को समझते है, उसका कद्र करना और रिश्तों को निभाना अच्छी तरह जानते है। यहाँ यह उल्लेखनीय है कि 4 वर्ष पूर्व अपने एकलौता भाई को खोने वाले दुःखयारिन तीन बहनों के लिए तत्कालीन मरवाही विधायक अमित जोगी भाई बनकर आगे आए और उनके दुःख को कम करने का प्रयास किया । 4 वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री निवास के सामने बेरोजगारी से तंग आकर बीरगांव निवासी भाई योगेश साहू ने अग्नि स्नान कर लिया था, जब किसी का सगा इकलौता भाई छोड़कर चला जाता है तो उसका दर्द वे बहने ही जान सकती है, ऐसे दुःख के घड़ी में अमित जोगी ने कहा था मैं भाई योगेश साहू तो नहीं बन सकता पर भाई योगेश साहू की कमी को पूरा करने का पूरा प्रयास करूंगा।

अनामिका पाल ने आगे कहा बचपन मे हमनें उत्साह पूर्वक भाई बहनों के पवित्र रिश्तों के बारे में अनेक किस्से और कहानियाँ सुने थे जिससे सुनकर हमारी आंखे नम हो जाती थी पर आज हम उससे भी बढ़कर भाई अमित जोगी जी और स्व योगेश साहू की बहनों के पवित्र भाई- बहनों के पवित्र रिश्ते को देख रहे है।

कोरोना काल में बीरगाँव में कंटेन्मेंट में स्वर्गीय श्री योगेश साहू की बहनों मंजु, जानकी और लक्ष्मी साहू के साथ zoom में JCCJ अध्यक्ष अमित जोगी ने राखी मनाई…

-अपने भाई को खुश करने के लिए बहनों ने घर की दिवार को गुलाबी पुतवाया और गुलाबी सारियाँ पहनी।

-दिवार पर स्वर्गीय श्री अजीत जोगी जी का हँसता हुआ फ़ोटो फ़्रेम को देखकर अमित ने कहा ‘पापा हम सबको अपना आशीर्वाद दे रहे हैं!’

-बहनों ने अपने मोबाइल स्क्रीन पर कलाई पर एक-एक करके अमित को राखी बांधी और फिर एक साथ अपने हाथों से उनकी पसंद का लड्डू खिलाया।

-अमित ने अपनी बहनों को जल्द ही बुआ के रूप में अपनी आनी वाली संतान को आशीर्वाद देने आमंत्रित किया।

-प्रदीप साहू और संदीप यदु के माध्यम से अपनी बहनों को राखी का तोहफ़ा भेजा।

कोरोना काल में बीरगाँव में कंटेन्मेंट में अपनी बहनों मंजु, जानकी और लक्ष्मी साहू (स्वर्गीय योगेश साहू की बहनें) के साथ…

Posted by Amit Jogi on Monday, August 3, 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *