कोरोना से जंग: संक्रमण प्रसार को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग अब समय की मांग

 

• सोशल डिसटेंसिंग एडवाइजरी में शामिल किये गये हैं 15 सलाह
• स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरीÒ

सूरजपुर 21 मार्च: कोरोनावायरस संक्रमण का प्रसार धीरे-धीरे बढ़ रहा है. इस संक्रमण का समुदाय में फ़ैल जाने को ही कॉम्यूनिटी ट्रांसमिशन या सामुदायिक फैलाव कहा जाता है. इससे बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमित होने की संभावना बढ़ जाती है. लेकिन यदि कुछ जरुरी सावधानियां बरती जाए तो सामुदायिक संक्रमण फैलाव पर रोक लगायी जा सकती है. इसको लेकर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने कोरोनावायरस संक्रमण की रोकथाम में जरुरी सोशल डिस्टेंसिंग पर एडवाइजरी जारी की है.
सोशल डिस्टेंसिंग की इसलिए जरूरत:
कोराना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने के दौरान वायरस हवा में फैल जाते हैं. यदि संक्रमित व्यक्ति के नजदीक कोई व्यक्ति जाता है तो वह भी इस वायरस से संक्रमित हो सकता है. केंद्र सरकार ने इसे लेकर सोशल डिसटेंसिंग एडवाइजरी जारी किया है जिसके अनुसार ऐसी जगहों पर जहां अधिक लोग एक दूसरे के संपर्क में आ सकते हैं, वहां लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है.
सोशल डिस्टेंसिंग एडवायजरी के तहत ये हैं 15 प्वांइट्स:

1. सभी शैक्षणिक संस्थानों (स्कूल, विश्वविद्यालय आदि), जिम, म्यूज़ियम, स्विमिंग पूल और और ऐसी सभी तरह की जगहों को बंद रखने हैं. छात्रों को घरों में रहने और ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए कहा गया है.
2. परीक्षाओं को स्थगित किया जाये. फिलहाल चल रही परीक्षाओं के दौरान ये सुनिश्चित करवाई जाये कि छात्रों के बीच कम से कम एक मीटर की दूरी हो.
3. प्राइवेट संस्थानों से कहा गया है कि हो सके तो अपने कर्मचारियों से घर से काम करवाएं.
4. संभव हो तो मिटिंग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए करें. बहुत ज़रूरी ना हो तो बड़ी बैठकों को स्थगित करने या उनमें लोगों की संख्या को कम करने की बात की गई है.
5. रेस्टोरेंट में हैंडवॉश प्रोटोकॉल का पालन हो. जिन जगहों को लोग बार-बार छूते हैं उन्हें नियमित अच्छी तरह साफ करते रहें. टेबल के बीच में कम से कम एक मीटर की दूरी रखें.
6. पहले से तय शादियों में कम से कम लोगों को बुलाया जाए और सभी तरह के अनावश्यक सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया जाए.
7. स्थानीय प्रशासन इंवेंट आर्गनाइजर्स को भीड़ जमा होने वाले कार्यक्रमों को रद्द करने के लिए कहें.
8. धार्मिक गुरु सुनिश्चित करायें कि धार्मिक स्थानों पर अधिक से अधिक भीड़ जमा नहीं हो और यदि ऐसा जरूरी है तो एक मीटर की दूरी रखने के लिए कहा जायेगा.
9. स्थानीय अधिकारी व्यापार संघों व अन्य स्टेकहोल्डर्स के साथ बैठक कर उन्हें सब्ज़ी व अनाज मंडी आदि जगहों पर लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर जागरूकता अभियान चलाने के लिए कहें.
10. व्यावसायिक गतिविधियों के दौरान ग्राहकों के साथ एक मीटर की दूरी रखें. बाजारों में पीक आवर में भीड़ को कम करने के लिए प्रशासन कदम उठाये.
11. एक दूसरे से हाथ मिलाने और गले लगने से बचना चाहिए.
12. गैर जरूरी यात्रा ना करें. बस, ट्रेन, हवाई जहाज़ में यात्रा करते वक्त लोगों से दूरी बनाए रखना ज़रूरी है. सार्वजनिक परिवहनों में नियमित कीटाणुशोधन सुनिश्चित किया जाना चाहिए.
13. सभी अस्पताल को कोविड-19 से जुड़े ज़रूरी प्रोटोकॉल का पालन करें. परिवार, दोस्तों, बच्चों को अस्पताल में अनावश्यक प्रवेश को प्रतिबंधित करें.
14. ऑनलाइन ऑडरिंग सर्विस में काम करने वाले अपनी सुरक्षा का ध्यान में रखें.
15. अपने आसपास के लोगों को इस संक्रमण के बारे में लगातार जानकारी देते रहें .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *