Saturday, September 26

खैरागढ़ में होगा राजपूतों का महाकुम्भ 22-23 दो दिवसीय महाधिवेशन में हजारों लोग जुटेंगे

राजनांदगांव/ राजपूत क्षत्रिय महासभा छत्तीसगढ़ रहटादह (पंजीयन क्रमांक 1282) का दो दिवसीय 56 वां वार्षिक महा अधिवेशन आगामी 22 एवं 23 फरवरी को संगीत नगरी खैरागढ़ के फतेह मैदान में आयोजित किया गया है। राजपूतों के इस वार्षिक महाकुंभ में पूरे प्रदेश से लगभग 20 हजार से ज्यादा राजपूतों के शामिल होने का अनुमान है।
56 वां महाधिवेशन में संयोजक की जिम्मेदारी खैरागढ़ उपसमिति के ठा.बद्री विशाल सिंह को सौंपी गई है। सहसंयोजक खैरागढ़ के ठा. देवेश सिंह और राजनांदगांव के ठा.प्रदीप सिंह गुगेल को बनाया गया है। उप संयोजक के रूप में उप समिति खैरागढ़ के अध्यक्ष ठा. शेर सिंह गांधी, उप समिति राजनांदगांव के अध्यक्ष ठा. भागवत सिंह बघेल, उप समिति डोंगरगांव के अध्यक्ष ठा.अमर सिंह, उप समिति डोंगरगढ़ के अध्यक्ष ठा. संतोष सिंह बघेल, उपसमिति बालोद के अध्यक्ष ठा. दीपक सिंह भुवाल और उपसमिति गंडई के अध्यक्ष ठाकुर प्रमोद सिंह होंगे।
अधिवेशन के प्रथम दिवस 22 फरवरी को प्रातः 8.00 बजे से अधिवेशन स्थल में फतेह सिंह मैदान में पंजीयन एवं कूपन वितरण का काम शुरू होगा। पूर्वान्ह 11.00 बजे अधिवेशन स्थल में दुर्ग से आने वाली महाराणा प्रताप ज्योति कलश यात्रा का स्वागत किया जाएगा। पूर्वान्ह 11.30 बजे महासभा के अध्यक्ष ठा. होरी सिंह डौड द्वारा ध्वजारोहण के साथ अधिवेशन का शुभारंभ होगा। तत्पश्चात मध्यान्ह 12.00 बजे से अधिवेशन स्थल परिसर से विराट शोभायात्रा निकाली जाएगी, जो नगर के प्रमुख मार्गो का भ्रमण करते हुए अधिवेशन स्थल में ही समाप्त होगी। तत्पश्चात शाम 4 बजे आयोजन समिति राजनांदगांव जोन द्वारा महासभा के केंद्रीय पदाधिकारियों का स्वागत किया जाएगा। तदोपरांत महासभा के अध्यक्ष ठा. होरी सिंह डौड़ अपना अध्यक्षीय उद्बोधन देंगे। इसके साथ ही अन्य अतिथिगण भी महासभा को संबोधित करेंगे। आयोजन समिति की ओर से सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट की जाएगी। इसी क्रम में महाराणा प्रताप साहित्य समिति द्वारा प्रकाशित समाज की वार्षिक पत्रिका शौर्य 2020 का विमोचन भी किया जाएगा । तत्पश्चात महासभा के सभी 35 उप समितियों के सचिव अपना वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे। इसके साथ ही समाज के विशिष्ट एवं वरिष्ठ जनों का सम्मान भी किया जाएगा। रात्रि 8.00 बजे से सांस्कृतिक एवं कला परिषद द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे।
अधिवेशन के द्वितीय दिवस यानी 23 फरवरी को सुबह 09 बजे से महिलाओं के लिए रंगोली, मेहंदी, पुष्प सज्जा, आरती की थाल सजाओ, छत्तीसगढ़ी व्यंजन प्रतियोगिता, महिलाओं की कुर्सी दौड़ एवं अन्य प्रतियोगिताओं का आयोजन होगा। सुबह 10.00 बजे युवक युवक युवती परिचय सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। तत्पश्चात खुला अधिवेशन होगा। जिसमें महासभा के महासचिव ठा. अशोक ठाकुर एवं कोषाध्यक्ष ठा. टामन सिंह पंवार अपना वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे। तदोपरांत प्रतिभावान छात्र-छात्राओं का सम्मान होगा। इसके साथ ही विविध क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वालों का सम्मान भी किया जाएगा। साथ ही विभिन्न प्रतियोगिताओ के विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार दिए जाएंगे। संयोजक द्वारा आभार प्रदर्शन एवं जोन प्रभारी द्वारा साधुवाद तथा ध्वज अवरोहण के साथ अधिवेशन का समापन होगा।
महासभा के अध्यक्ष ठा. होरी सिंह डौड़, महासचिव अशोक ठाकुर समस्त केंद्रीय पदाधिकारियों एवं आयोजक समिति खैरागढ़ के समस्त पदाघिकारियों महासभा के सभी सदस्यों से इस कार्यक्रम में सपरिवार उपस्थित होने की अपील की गयी है। जय महाराणा-जय राजपूताना।

ठाकुर पंकज भुवाल एवं तेजबहादुर सिंह भुवाल से प्राप्त जानकारी अनुसार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *