Friday, September 25

दिल्ली हिंसा में ताहिर पर आईबी अफसर की हत्या का मुकदमा, AAP ने पार्टी से निकाला

नई दिल्ली। आप पार्षद हाजी ताहिर हुसैन पर दिल्ली के दयालपुर थाने में आईबी अफसर अंकित शर्मा की हत्या एवं दंगा भड़काने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने गुरुवार (27 फरवरी) को बताया कि ताहिर के शिव विहार स्थित घर को भी पुलिस ने सील कर दिया है।
ताहिर के खिलाफ अंकित के पिता रविंदर शर्मा ने अपने बेटे की हत्या करने का आरोप लगाते हुए दयालपुर थाने में शिकायत दी थी। इसके आधार पर पुलिस ने कार्रवाई की है। उधर, देर रात आम आदमी पार्टी ने ताहिर को पार्टी से निलंबित कर दिया। स्पेशल सीपी कानून एवं व्यवस्था एसएन श्रीवास्तव ने गुरुवार को दंगा प्रभावित मुस्तफाबाद इलाके का दौरा किया था जहां पर लोगों से बातचीत के दौरान यह जानकारी दी। अंकित का शव ताहिर के घर के सामने से बह रहे नाले से बरामद किया गया था।
दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि प्राथमिक जांच में अंकित की हत्या में ताहिर का हाथ होने की बात सामने आई है। गुरुवार (27 फरवरी) को ताहिर के घर पर बोतलें, पेट्रोल बम, गुलेल, पत्थर, ईंट एवं तेजाब से भरी पॉलीथीन मिली थी। इसके बाद पुलिस ने ताहिर के घर को सील कर दिया। खबर लिखे जाने तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई थी।
आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा (26) उत्तरपूर्वी दिल्ली के दंगाग्रस्त चांदबाग इलाके में अपने घर के पास नाले में मृत पाए गए थे। अंकित के परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया कि हत्या के पीछे हुसैन तथा उसके साथी हैं, हालांकि हुसैन ने आरोपों से इनकार किया है। शर्मा मंगलवार (25 फरवरी) को लापता हो गए थे और उनका शव बुधवार (26 फरवरी) को उनके घर के पास एक नाले में मिला था।
संशोधित नागरिकता कानून के समर्थक और विरोधी समूहों के बीच तीन दिन पहले (24 फरवरी) उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई झड़प ने सांप्रदायिक हिंसा का रूप ले लिया। इसमें 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई और 200 से अधिक लोग घायल हो गए। उन्मादी भीड़ ने घरों, दुकानों, वाहनों और एक पेट्रोल पंप को आग लगा दी और स्थानीय लोगों तथा पुलिसकर्मियों पर पथराव किया। दंगा प्रभावित इलाकों में जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, यमुना विहार, भजनपुरा, चांद बाग और शिव विहार शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *