बड़ी खबर महासमुंद नकली नोट छापने और खपाने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश पुलिस ने 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार

किशोर कर ब्यूरोचीफ महासमुंद

आरोपियों के कब्जे से 21 लाख 27 हजार का नकली नोट जप्त

नोट छापने की मशीन और अन्य सामग्री भी जप्त

सभी आरोपी बलौदा बाजार जिले के सरसीवा थाना क्षेत्र के निवासी

महासमुंद – छत्तीसगढ़ में नकली नोट खपाने वाले बड़े गिरोह का महासमुंद पुलिस ने पर्दाफाश किया है । नकली नोट के कारोबार में जुड़े गिरोह के पांच आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है आरोपियों के कब्जे से 21 लाख ₹27000 का नकली नोट भी बरामद किया गया है पुलिस गिरफ्त में आए सभी आरोपी बलौदाबाजार जिले के सर सीमा थाना क्षेत्र के निवासी हैं जिन से गहन पूछताछ की जा रही है। महासमुंद जिला पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने विगत दिनों आसपास के सभी थाना क्षेत्रों को निर्देशित किया था कि अपराधिक गतिविधियों में लिप्त लोगों पर नजर रखें और कार्रवाई करें इसी बीच मुखबिर के माध्यम से महासमुंद जिला पुलिस अधीक्षक को सूचना मिली थी कि कुछ लोग संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त हैं और नकली नोट जैसे अपराधिक कृत्य कर रहे हैं सूचना के आधार पर पुलिस को सूचना तंत्र को मजबूत किया और साइबर सेल को इसकी जानकारी दी गई जिसके बाद महानदी मोड़ के पास हाईवे पर आना जाने वाले सभी वाहनों की जांच की जा रही थी इसी दौरान मुखबिर से बताएं पुलिया के मुताबिक 2 लोग एक मोटरसाइकिल वाहन में नदी मूर्ति और बड़े जी ने नाकाबंदी कर चेकिंग पुलिस द्वारा की गई संडे को वाहन को रोकने पर दोनों ने अपना नाम कलाराम और मुन्ना लाल थाना सरसींवा का पता बताया पुलिस की टीम ने जब उनसे महासमुन्द जिले में आने का कारण पूछा तब परिवहन का कागजात दिखाने के लिए कहा तब हुए गोलमोल जवाब देने लगे इस बीच पुलिस ने उनके पास रखें एक सफेद बड़ी मात्रा में नकदी रकम रखे हुए थे रकम के बारे में पूछताछ करने पर वह एक संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए प्रथम दृष्टया सारे नोट नकली प्रतीत हो रहे थे नोट के बारे में गहन पूछताछ करने के बाद मुन्नालाल भारती ने बताया कि वह पूर्व में हत्या के आरोप में चालान हो चुका है टीम ने जब कारण पूछा तो नकली नोट रखने की बात भी उसके द्वारा बताई गई इसके निशानदेही पर पुलिस ने सघन पूछताछ शुरू कर दी इस दौरान उसने बताया कि 25000 के असली नोट के बदले हुए 100000 का नकली नोट देते हैं आरोपी द्वारा 1500000 का नकली नोट खपाने के लिए ग्राहक की तलाश की जा रही थी सघन पूछताछ करने के बाद आरोपी ने अपने सहयोगियों के नाम भी बताएं जिसके पतासाजी पर सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है । आरोपियों के कब्जे से पांच सौ, एक सौ और ₹50 के नकली नोट जप्त किए हैं जिसकी कुल कीमत 21 लाख 27 हजार रुपए बताई गई है। आरोपियों के कब्जे से नोट छापने कलर प्रिंटर फोटोकॉपी मशीन कंप्यूटर माउस पेपर कटर सहित विभिन्न प्रकार की सामग्री भी बरामद की गई है फिलहाल नकली नोट के तार कहां-कहां से जुड़े हुए हैं इस की पतासाजी पुलिस द्वारा की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *