मंत्री मो अकबर के जवाब के बाद पूरी भाजपा को सांप सूंघ गया है  भूपेश बघेल की जमीन बारिश में नपवाने वाले डॉ रमन अपनो पर लगे आरोप तो खामोश हो गये,,विकास तिवारी

 

मंत्री मो अकबर के जवाब के बाद पूरी भाजपा को सांप सूंघ गया है
कुशाभाऊ ठाकरे परिसर और कवर्धा स्थित पैतृक मकान पर सरकारी जमीन कब्जे पर क्या कहेंगे डॉ रमन

प्रदेश भाजपा कार्यालय और कवर्धा निवास के जमीन की नाप करवाये प्रदेश सरकार-विकास तिवारी

रायपुर 24 अगस्त 2020। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कवर्धा में होमगार्ड भवन के लिए आरक्षित जमीन पर कांग्रेस भवन के निर्माण-भूमिपूजन के पूर्व सीएम रमन सिंह के आरोपों पर तीखा पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार के मंत्री मोहम्मद अकबर ने पहले तो रमन सिंह के आरोपों को तथ्यहीन और गुमराह करने वाला बताया है और उन्होंने डॉ रमन सिंह से ही पूछ लिया कि कवर्धा स्थित मकान से सटी सरकारी जमीन पर किए गए कब्जे पर कुछ क्यों नहीं कहना चाहते। प्राप्त जानकारी के अनुसार डॉ रमन सिंह-परिवार ने मंडी की कुछ जमीन को घेरा हुआ है और इसमें भारी गड़बड़ी का दावा किया जा रहा है। प्रवक्ता विकास में कहा कि अपनो के ऊपर लगे इस गंभीर आरोप पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह क्या जवाब देंगे और अगर उनके परिजनों के द्वारा सरकारी जमीन पर बलात, दबावपूर्वक अतिक्रमण, कब्जा किया गया है तो क्या वह इसके लिए प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर उक्त जमीन को सरकारी अधिग्रहण करने हेतु अनुरोध करेंगे और क्या दोषियों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग करेंगे।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा तत्कालीन प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं वर्तमान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की जमीन को भरे बारिश में नाप-जोख करवाने वाले पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह अपने परिजनों और अपने पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर लगे सरकारी जमीन कब्जे पर चुप्पी साध ली है और पूरी भाजपा को सांप सूंघ गया है कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि विश्वस्त सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार राजधानी रायपुर के डुमरतराई स्थित कुशाभाऊ ठाकरे परिसर करीब पांच एकड़ जमीन में फैला हुआ है। इसमें से एक एकड़ जमीन धमतरी के एक दवा कारोबारी की थी। उस समय दवाब पूर्वक एवं नियम विरुद्ध पूर्ववर्ती रमन सरकार ने दवा कारोबारी को उसके जमीन के बदले में एक एकड़ से अधिक सरकारी जमीन आबंटित कर दी। हाउसिंग बोर्ड की जमीन को भी भाजपा दफ्तर तक जाने के लिए ले लिया गया। 15 सालों में भाजपा के आला नेता और पदाधिकारी सरकारी जमीनों पर बलात बलपूर्वक कब्जा करके उसे व्यवसायिक एवं भाजपा कार्यालय तक के लिए उपयोग किए हुए हैं भाजपा के प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर पर उक्त सरकारी जमीन पर कब्जा कर निर्माण की बात बेहद गंभीर और संगीन है इस आरोप के बाद भाजपा के शीर्ष नेतृत्व में को सांप सूंघ गया है और जवाब देने के लिए बगले झांकने लगे हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने चुनौती पूर्वक पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह एवं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय से उक्त दोनों सरकारी जमीन पर कब्जे के आरोप पर तत्काल प्रतिक्रिया मांगी है और कहां है कि जिस प्रकार कवर्धा बिलासपुर के कांग्रेस भवन के निर्माण दिवस के दिन झूठा आरोप लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व इन कांग्रेस के इन सवालों का जवाब कब देंगे और अगर उक्त आरोपों का जवाब भारतीय जनता पार्टी नहीं देगी तो हम प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मांग करेंगे कि उक्त आरोपों पर तत्काल एक जांच कमेटी गठित करके प्रदेश भाजपा कार्यालय और डॉ रमन सिंह के कवर्धा स्थित पैतृक मकान की नाप जोख तत्काल करवाएं और अगर उस में सरकारी जमीन को बलात, गुंडागर्दी पूर्वक अधिग्रहित किया गया है तो उसे मुक्त कराकर प्रदेश सरकार अपने अधिग्रहण में लेवे। एवं दोषी व्यक्ति के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की अनुशंसा करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *