मरवाही में किए घोषणाओं को लेकर अमित जोगी ने लिखा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र, मेरे पिता जी ने 20 वर्षो में कभी भी मरवाही क्षेत्र के लिए कभी घोषणा नहीं की,वित्तीय प्रबंधन और प्रशासनिक स्वीकृति के बिना घोषणाएं दंतहीन शेर की तरह हो जाती हैं – अमित जोगी

▶ *18 महीनों में 1000 करोड़ रूपए के दंतहीन शेर मरवाही क्षेत्र में घूमने लगे हैं – अमित*

▶ *मुख्यमंत्री जी लंबित घोषणाओं की समीक्षा हेतु स्वंय आहुत करें उच्चस्तरीय बैठक – अमित

⏸▶ *रायपुर, छत्तीसगढ़, दिनांक 10.08.2020 । जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश अध्यक्ष श्री अमित जोगी ने मरवाही उपचुनाव को मद्देनजर कांग्रेस के द्वारा मरवाही में घोषणाओं की बौछार को दन्तहीन शेर की तरह बताया । अमित जोगी ने कहा 20 वर्षो में मेरे पिता स्व. अजीत जोगी जी ने कभी भी मरवाही क्षेत्र के लिए कोई घोषणा नही की क्योंकि उनका मानना था कि चुनावी घोषणा करके उस पर काम नहीं करने से लोगो का लोकतंत्र से विश्वास खत्म हो जाता है । पिछले डेढ़ वर्षो में सरकार के द्वारा मरवाही क्षेत्र के लिए लगभग 1000 करोड़ रूपयों की घोषणाएं की गई है जिसमें कोलबिर्रा सिंचाई परियोजना, 147 सड़कों का निर्माण एवं नवीनीकरण, 54 स्कूलों और महाविद्यालयों का उन्नयन और जिला चिकित्सालय एवं स्वास्थ्य केन्द्रों में 80 प्रतिशत रिक्त पड़े पदों पर पदस्थापना प्रमुख है किन्तु 18 महीने पश्चात भी वित्तीय प्रावधान और प्रशासनिक स्वीकृति के अभाव में अधिकांश घोषणाएं दन्तहीन शेर जैसी बन चुकी है । इनमें से अधिकांश पर धरातल में कोई काम नही हुआ है । अमित जोगी ने कहा 18 महीनों में लगभग 1000 करोड़ रूपयों के दन्तहीन शेर मरवाही क्षेत्र में घूमने लगे है

*इस संदर्भ में अमित जोगी ने मुख्यमंत्री जी को लिखे पत्र में कहा मैं आपसे उम्र और अनुभव दोनों में ही बहुत कनिष्ठ हूँ किन्तु आपसे मेरा व्यक्तिगत अनुरोध हैं कि आप स्वंय इन घोषणाओं की समीक्षा हेतु उच्च स्तरीय बैंठक आहुत करें तथा सभी लंबित घोषणाओं के त्वरित निष्पादन हेतु समुचित वित्तीय प्रबंधन एवं प्रशासनिक आदेश पारित करने की समय सीमा निर्धारित करने की कृपा करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *