महासमुंद 8 लाख के जंगली सुअर के दांत बेचने के फिराक में घूम रहे,दो आरोपी गिरफ्तार

किशोर कर ब्यूरो चीफ                                        महासमुंद – वन्य जीवों का शिकार कर कीमती अवशेषों को बेचने के फिराक में ग्राहक तलाश रहे दो आरोपियों को सरायपाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है पुलिस अधीक्षक महासमुंद प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के आदेशानुसार एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेमभुलकर के निर्देशानुसार एवं विकास पाटले अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सरायपाली के मार्गदर्शन में क्षेत्र में लगातार अवैध कार्यों पर अकुंश लगाने का सतत प्रयास किया जा रहा है एवं कार्यवाही की जा रही है इस बीच मुखबीर से सूचना प्राप्त हुआ कि मोटर सायकल क्रमांक CG 11 CF 6378 बजाज डिस्कवर में दो व्यक्ति सवार होकर नीले काले रंग के बेग में जंगली सुअर का दांत(खिरसा) रखकर सारंगढ से जयस्तंभ चौक होते हुये कुटेला चौक की ओर आ रहे है तथा जंगली सुअर का दांत(खिरसा) को बेचने के लिये ग्राहक तलाश कर रहे है कि सूचना पर तस्दीक हेतु कुटेला चौक सरायपाली पहुंचकर थोडी देर इंतजार किये जहां मुखबीर के बताये हुलिये की वाहन एवं दो व्यक्ति आते देखकर हाथ दिखाकर रोका गया जिनसे नाम पता पूछताछ करने पर अपना अपना नाम अजय टण्डन पिता रथराम टण्डन जाति सतनामी उम्र 28 साल साकिन ठठारी थाना बाराद्वार जिला जांजगीर-चांपा, मनोज बरेठ पिता रामलाल बरेठ जाति धोबी उम्र 30 वर्ष साकिन लउसरा थाना बाराद्वार जिला जांजगीर- चांपा का रहने वाला बताये एवं बैग में रखे सामान एवं वाहन CG 11 CF 6378 के संबंध में पूछताछ करने पर हीला हवाला आना कानी किये उक्त दोनो व्यक्तियों एवं उनके वाहन की एवं उनके पास रखे काले नीले रंग की बैग की तलाशी ली गयी बैग के अंदर 08 नग जंगली सुअर का दांत(खिरसा) जैसा वस्तु एक एटीएम, नगदी रकम 400 रूपये, 03 नग मोबाइल, एक नग मोटर सायकल मिला। संदेहीयों से उक्त वस्तु रखने के संबंध में वैध दस्तावेज प्रस्तुत करने हेतु नोटिस देने पर जबाब में उन्होने कोई वैध दस्तावेज नहीं होना लिखित में देने से गवाहों के समक्ष विधिवत कार्यवाही करते हुये दोनों व्यक्तियों के संयुक्त कब्जे से 08 नग जंगली सुअर का दांत खिरसा जैसा वस्तु कीमती करीबन 08 लाख, 03 नग मोबाइल , नगदी रकम 400 रूपये, एक नग मोटरसायकल पुरानी इस्तेमाली कीमती करीबन 20,000 रूपये, एक नग एटीएम जुमला रकम 8,39,400 रूपये का जब्त कर कब्जा पुलिस लिया गया। आरोपियों का कृत्य वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9,49,51 का घटित करना पाये जाने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा जाता है। इस कार्यवाही में निरीक्षक थाना प्रभारी सरायपाली मल्लिका तिवारी, प्रभारी सायबर सेल उप निरीक्षक संजय सिंह राजपुत, उप निरी. अनिल पालेश्वर , प्रधान आरक्षक सुकलाल भोई, प्रधान आरक्षक रामकृष्ण साहू, आरक्षक हेमंत नायक, संदीप भोई, युगल पटेल, योगेंद्र दुबे, टीकाराम नायक, चंद्रमणी यादव, भूपेश प्रधान, योगेश यादव का विशेष योगदाना रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *