राखी में इस बार भाईयों की कलाईयों पर बंधेगी महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार की गई राखियॉ अब तक 2180 राखी बेचकर 44 हजार 880 रूपये की आमदनी

भाईयों की कलाईयों पर बंधेगी महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार की गई राखियॉ
अब तक 2180 राखी बेचकर 44 हजार 880 रूपये की आमदनी
उत्तर बस्तर कांकेर 25 जुलाई 2020ः- इस रक्षा बंधन में भाईयों की कलाईयों पर महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार की गई राखियॉ बंधेगी। जिले के अन्तागढ़, दुर्गूकोन्दल, दशपुर, धनेलीकन्हार एवं कोकपुर की महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा राखियॉ तैयार की जा रही है, बिहान के अंतर्गत कार्यरत 13 महिला स्व-सहायता समूह की 90 महिलाओं द्वारा अब तक 21 हजार 500 नग राखियॉ बनाई गई है जिसमें से 2180 नग राखी बेचकर 44 हजार 880 रूपये की आमदनी भी प्राप्त की जा चुकी है। वर्तमान में कोरोना के संक्रमण को देखते हुए चीन व बाहर से राखियों की आवक नहीं होने से स्थानीय बाजारों में स्व-सहायता समूह के द्वारा बनायी गयी राखियों की मांग बढ़ी है। महिला स्व-सहायता समूह के द्वारा बनाये गये राखी आकर्षक, सुन्दर व कम दर पर उपलब्ध होने से लोगों को लुभा रही है।
जिला पंचायत के सीईओ डॉ संजय कन्नौजे ने ग्राम दशपुर में कोयतूर महिला स्व-सहायता समूह व कोकानपुर में जय भवानी समूह की महिलाओं द्वारा तैयार की जा रही राखियों का अवलोकन कर उनका उत्साहवर्धन भी किया। उन्होंने जय भवानी महिला स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष नीता से 250 रूपये का राखी खरीदकर उन्हें प्रोत्साहित किया गया। ग्राम दशपुर के कोयतूर महिला स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष सत्रो ठाकुर से बातचीत करने पर बताया कि उनके द्वारा निर्मित राखी को अपने गांव में तथा ग्राम संगठन में बेची जा रही है, जिस पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए जिला पंचायत सीईओ ने बीपीएम कांकेर श्री साहू व डीपीएम श्री तिवारी को महिला समूह द्वारा तैयार की गई राखियों को बिहान गढ़िया बाजार कांकेर में बेचने के लिए सहयोग प्रदान करने के निर्देश दिये। जिला पंचायत सीईओ द्वारा ग्राम दशपुर में स्व-सहायता समूह की महिलाआें से चर्चा करते हुए अन्य गतिविधियों की जानकारी ली गई, जिस पर समूह की महिलाओं ने बताया कि उनके द्वारा राखी बनाने के साथ ही मछली पालन, मुर्गी पालन, डबल रोटी निर्माण, सब्जी उत्पादन और किराभाईयों की कलाईयों पर बंधेगी महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार की गई राखियॉ
अब तक 2180 राखी बेचकर 44 हजार 880 रूपये की आमदनी
उत्तर बस्तर कांकेर 25 जुलाई 2020ः- इस रक्षा बंधन में भाईयों की कलाईयों पर महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार की गई राखियॉ बंधेगी। जिले के अन्तागढ़, दुर्गूकोन्दल, दशपुर, धनेलीकन्हार एवं कोकपुर की महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा राखियॉ तैयार की जा रही है, बिहान के अंतर्गत कार्यरत 13 महिला स्व-सहायता समूह की 90 महिलाओं द्वारा अब तक 21 हजार 500 नग राखियॉ बनाई गई है जिसमें से 2180 नग राखी बेचकर 44 हजार 880 रूपये की आमदनी भी प्राप्त की जा चुकी है। वर्तमान में कोरोना के संक्रमण को देखते हुए चीन व बाहर से राखियों की आवक नहीं होने से स्थानीय बाजारों में स्व-सहायता समूह के द्वारा बनायी गयी राखियों की मांग बढ़ी है। महिला स्व-सहायता समूह के द्वारा बनाये गये राखी आकर्षक, सुन्दर व कम दर पर उपलब्ध होने से लोगों को लुभा रही है।
जिला पंचायत के सीईओ डॉ संजय कन्नौजे ने ग्राम दशपुर में कोयतूर महिला स्व-सहायता समूह व कोकानपुर में जय भवानी समूह की महिलाओं द्वारा तैयार की जा रही राखियों का अवलोकन कर उनका उत्साहवर्धन भी किया। उन्होंने जय भवानी महिला स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष नीता से 250 रूपये का राखी खरीदकर उन्हें प्रोत्साहित किया गया। ग्राम दशपुर के कोयतूर महिला स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष सत्रो ठाकुर से बातचीत करने पर बताया कि उनके द्वारा निर्मित राखी को अपने गांव में तथा ग्राम संगठन में बेची जा रही है, जिस पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए जिला पंचायत सीईओ ने बीपीएम कांकेर श्री साहू व डीपीएम श्री तिवारी को महिला समूह द्वारा तैयार की गई राखियों को बिहान गढ़िया बाजार कांकेर में बेचने के लिए सहयोग प्रदान करने के निर्देश दिये। जिला पंचायत सीईओ द्वारा ग्राम दशपुर में स्व-सहायता समूह की महिलाआें से चर्चा करते हुए अन्य गतिविधियों की जानकारी ली गई, जिस पर समूह की महिलाओं ने बताया कि उनके द्वारा राखी बनाने के साथ ही मछली पालन, मुर्गी पालन, डबल रोटी निर्माण, सब्जी उत्पादन और किराना दुकान का संचालन किया जा रहा है, जिस पर सीईओ ने खुशी की ईजहार करते हुए महिला समूह को और अच्छा कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया। ना दुकान का संचालन किया जा रहा है, जिस पर सीईओ ने खुशी की ईजहार करते हुए महिला समूह को और अच्छा कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *