एमपी पुलिस की गोली से अधेड़ आदिवासी की मौत वन मंत्री मो अकबर ने लिखा मुख्मंत्री शिवराज सिंह गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को पत्र, की कड़ी कार्रवाई की मांग

कवर्धा के  झामसिंह ध्रुर्वे की मध्यप्रदेश पुलिस की गोली से हुई मौत का मामला

मोहम्मद अकबर ने मध्यप्रदेश के सी.एम. व गृह मंत्री से दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने कहा

रायपुर। कबीरधाम जिले के निवासी  झामसिंह ध्रुर्वे की मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा गोली चलाने से हुई मौत के मामले में छत्तीसगढ़ के वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री व गृह मंत्री को पत्र लिखकर उच्च स्तरीय जाॅच कराने व दोषियों के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने का अनुरोध किया है। आदिवासी वर्ग के श्री झामसिंह ध्रुर्वे, विकासखंड बोड़ला अंतर्गत ग्राम बालसमुंद के निवासी थे। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान व गृहमंत्री श्री नरोत्तम मिश्रा को लिखे गये पत्र में छत्तीसगढ़ के वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने बताया है कि उनके विधानसभा क्षेत्र कवर्धा के ग्राम बालसमुंद निवासी श्री नेमसिंह ध्रुर्वे ने दिनांक 08 सितम्बर को छत्तीसगढ़ के जिला कबीरधाम के थाना झलमला प्रभारी को अभ्यावेदन दिया है। इस अभ्यावेदन के आधार पर प्रारंभिक तौर पर तथ्यों की पड़ताल में यह संज्ञान में आया है कि मध्यप्रदेश पुलिस के द्वारा छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश की सीमा में दिनांक 06 सितम्बर को दो निर्दोष आदिवासियों श्री झामसिंह ध्रुर्वे व श्री नेमसिंह ध्रुर्वे पर अकारण ही गोली चलाई गई। गोली चलाने से  झामसिंह धु्रर्वे की मौत हो गई तथा श्री नेमसिंह धु्रर्वे पर गोली का निशाना चूक गया।
छत्तीगसढ़ के वन मंत्री ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री व गृह मंत्री को बताया है कि उक्त घटना के कारण क्षेत्र के आदिवासी समाज में अत्यधिक आक्रोश है। उन्होंने इस घटना को उच्च स्तरीय जाॅच कराने तथा छत्तीसगढ़ सरकार को आवश्यक सूचनाएं उपलब्ध कराने आदेशित करने कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *