Friday, September 25

हिन्दू, मुस्लिम, सिख ईसाई सभी धर्म प्रमुखों एवं रंजन गोगोई को राम मंदिर भूमिपूजन में आमंत्रित करे ट्रस्ट: रिजवी

Raipur 9/07/2020। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख एवं मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने सनातन धर्म की स्थापित धारणा एवं मूलभावना वसुधैव कुटुम्बकम के अंतर्गत 5 अगस्त को अयोध्या में होने वाले बहुप्रतीक्षित भूमिपूजन के ऐतिहासिक अवसर पर राम मंदिर ट्रस्ट के ट्रस्टियों से निवेदन किया है कि इस कार्यक्रम में देश के मुस्लिम, ईसाई, सिक्ख, बौद्ध, जैन आदि धर्मों के प्रमुखों को भी निमंत्रण भेजें जो इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में चार चांद लगा देगा तथा इस प्रकार यह कार्यक्रम सर्वधर्म समभाव के कार्यक्रम के रूप में जाना जाऐगा तथा सम्पूर्ण विश्व में इस भूमिपूजन की अभिनव यादगार पहचान भी बनेगी।

रिजवी ने कहा है कि सभी के धर्मग्रंथों में एक-दूसरे के धर्म के प्रति आदर एवं सम्मान सिखाया गया है। ईस्लाम धर्म के मुकद्दस ग्रंथ कुरान शरीफ की एक आयत में स्पष्ट लिखा है कि ‘‘लकुम दीनकुम वल यदीन’’ अर्थात् सभी धर्मों का आदर करो। देश का कौमी तराना ‘‘सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा’’ के रचयिता डा. अल्लामा इकबाल जैसे महान शायर ने मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम को सम्मान देते हुए उन्हें ‘‘इमामें हिन्द’’ के खिताब से नवाजा है जो श्रीराम की गरिमा के अनुकूल है। वैसे भी सभी धर्म सर्वशक्तिमान अल्लाह-ईश्वर तक पहुंचने के अलग-अलग रास्ते ही तो है।
रिजवी ने सदियों से प्रतीक्षारत देश की जनता को यह दिन दिखाने वाले पूर्व सी.जे.आई. श्री रंजन गोगोई के ऐतिहासिक फैसले ने राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया है। इस निष्पक्ष अभूतपूर्व फैसले से प्रभावित महामहिम राष्ट्रपति ने उन्हें राज्यसभा सांसद भी मनोनीत किया है। मंदिर ट्रस्ट से अपेक्षा है कि इस भूमिपूजन का पवित्र अवसर प्रदान करने वाले श्री रंजन गोगोई को भी विशेष अतिथि के रूप में आमंत्रित करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *