17 मार्च को शहीद भगतसिंह, राजगुरू और सुखदेव के वंशज छत्तीसगढ़ आएंगे. देशभक्ति के मायने विषय पर होगा व्याख्यान.

रायपुर. देश की आज़ादी के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले भगतसिंह, राजगुरू और सुखदेव के परिजन एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम मेंं शिरकत करने के लिए छतीसगढ़ की राजधानी रायपुर आ रहे हैं. अपना मोर्चा डॉट कॉम और भारत भास्कर के सहयोग से इंक़लाब-ज़िन्दाबाद ( देशभक्ति के मायने ) विषय पर एक व्याख्यान रखा गया है जिसमें भगतसिंह के भतीजे किरणजीत सिंह संधू, राजगुरू के प्रपौत्र सत्यशील राजगुरू और सुखदेव के प्रपौत्र विशाल नैय्यर भाग लेंगे. देश के प्रसिद्ध आलोचक प्रोफेसर सियाराम शर्मा आधार वक्तव्य देंगे.जबकि मणिमय मुखर्जी के निर्देशन में इप्टा भिलाई के साथी नफ़रत और हिंसा के खिलाफ शांति-एकता के गीत प्रस्तुत करेंगे. यह कार्यक्रम शहीद स्मारक भवन में 17 मार्च को शाम ठीक साढ़े सात बजे प्रारंभ होगा.

ऐसे समय जबकि हर रोज़ सोशल मीडिया पर भाई-चारे का कत्ल करने वाले देशभक्त पैदा हो रहे हैं. हर रोज़ देशभक्ति की नई और खौफनाक परिभाषा गढ़ी जा रही है तब यह आयोजन बेहद मायने रखता है. शहीदों के वंशजों के उद्बोधन से यह समझने की कवायद तो होगी ही देश की मिट्टी मेंं नफ़रत की फसल को लहलहाने देना है या फिर प्यार और मोहब्बत के बीज़ का रोपण करना है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *