Wednesday, August 5

कवर्धा शव के साथ कोरोना पॉजिटिव कर रही थी सफर 0 जांजगीर कलेक्टर की सूचना पर बोड़ला में रोके गए परिजन

शव के साथ कोरोना पॉजिटिव कर रही थी सफर
0 जांजगीर कलेक्टर की सूचना पर बोड़ला में रोके गए परिजन
0 जांच में एक महिला निकली कोरोना संक्रमित
0 बोड़ला एसडीएम को नही है मामले की जानकारी

कवर्धा – परिजन के शव के साथ मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से गृह जिले जांजगीर वापस हो रहे एक ही परिवार के 11 सदस्यों को जिले के सरहदी ब्लाक मुख्यालय बोड़ला में कोरोना इन्फ़ेक्सन के खतरे और जांजगीर कलेक्टर द्वारा अनुमति नही मिलने के चलते मामले की गंभीरता को देखते जिला प्रशासन द्वारा बोड़ला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रोक कोरोना जांच करवाई गई जिसमें एक सदस्य कोरोना संक्रमित पाया गया है ।
कोरोना संक्रमितों का बिना सक्षम अनुमति के सफर करना और जिला कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक की जानकारी के बाद उक्त परिवार को रोके जाने जैसे गंभीर घटनाक्रम जिसकी जानकारी जिला प्रशासन को तो है किंतु बोड़ला में पदस्थ एसडीएम सोनी साहब को नही होना आश्चर्यजनक है एसडीएम साहब की माने तो बोड़ला में ऐसी कोई घटना हुई ही नही बल्कि वे तो ऐसी किसी घटना से साफ साफ इनकार तक कर रहे जबकि जिले के कलेक्टर ने ऐसी घटना का होना स्वीकार कर परिवार के सदस्यों को कोरेण्टाइन करने , संक्रमित व्यक्ति को कोविड सेन्टर में इलाज हेतु भर्ती करने व मृतक के शव की कोरोना जांच कर प्रोटोकॉल अनुसार दाह संस्कार की बात स्वीकारी है ।
मिली जानकारी अनुसार जांजगीर में निवासरत एक परिवार शादी में शामिल होने के लिए जांजगीर से भोपाल गए हुए थे जहाँ एक सदस्य की अचानक मृत्यु हो गई है जिसे परिजन हार्टअटेक से मृत्यु बताते गृह निवास जांजगीर वापस हो रहे थे किन्तु सक्षम अधिकारी जांजगीर कलेक्टर से अनुमति नही मिल पाई थी । बावजूद इसके परिजनों का इस तरह बिना अनुमति के सफर करना संदेहास्पद है । मिली जानकारी अनुसार जांजगीर आ रहा परिवार जिस पारिवारिक समारोह में शामिल होने भोपाल गया हुआ था उस परिवार में एक व्यक्ति कोरोना पोसिटिव आया हैजिसकी कांटेक्ट ट्रेसिंग में इस परिवार का पता चला और जांजगीर कलेक्टर ने मामले की जानकारी से कबीरधाम कलेक्टर व पोलिस अधीक्षक को अवगत कराया । जांजगीर कलेक्टर की सूचना पर हरकत में आये प्रशासन ने परिवार को रोक कोरोना संक्रमण की जांच कराई जिसमे से एक महिला सदस्य कोरोना पॉजिटिव से संक्रमित पाया गया है। जिसके चलते शव और परिवार को बोड़ला प्रशासन ने बोड़ला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रोक पीड़ित दिया गया । जिला कलेक्टर की पहल पर पीड़ितों का इलाज और शव के निर्धारित प्रोटोकॉल अनुसार दाह संस्कार की व्यवस्था कराई जा रही है ।
वर्सन
1 . ऐसा कोई मामला नही है । आप पत्रकार है और वर्सन पूछ रहे है तो मैं कोई वर्सन नही दूंगा ।
विनय सोनी एसडीएम बोड़ला जिला कबीरधाम
2. भोपाल से 10 – 11 सदस्यों का एक परिवार जांजगीर के लिए डेडबॉडी के साथ निकला था । जंहा परिवार गया था वंहाँ एक सदस्य कोरोना पोसिटिव पाया गया है । परिवार को जांजगीर कलेक्टर से अनुमति भी नही मिली है । परिवार के एक सदस्य को भी कोरोना संक्रमण निकला है ।ऐसे में शासन के प्रोटोकॉल के नियमानुसार शव का दाह संस्कार व संक्रमित के इलाज की व्यवस्था की जा रही है ।
रमेश शर्मा कलेक्टर कबीरधाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *