ED का बड़ा खुलासा: आप- कांग्रेस से संपर्क में हैं PFI कार्यकर्ता, शाहीन बाग में है हेडक्वार्टर

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में उत्तर प्रदेश सहित कुछ राज्यों में हिंसा और राष्ट्रविरोधी गतिविधियों को लेकर संदेह के घेरे में आए पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) को लेकर नया खुलासा हुआ है। प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों के अनुसार PFI का मुख्यालय दिल्ली के शाहीन बाग में है, जहां प्रदर्शनकारियों की गतिविधियों के लिए लाखों रुपये जमा किए जाते हैं।
प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने जानकारी दी है कि खुलासा हुआ है कि दिल्ली के पीएफआई अध्यक्ष मोहम्मद परवेज अहमद लगातार आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह और उदित राज समेत कांग्रेस के कई नेताओं से संपर्क में बने हुए हैं। बता दें कि ये खुलासा दिल्ली चुनाव प्रचार के आखिरी दिन हुआ है।
प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने दावा किया है कि जांच में सामने आया है कि परवेज अहमद केवल सीएए विरोधी गतिविधियों में ही शामिल नहीं था बल्कि आम आदमी पार्टी के संजय सिंह से निजी मुलाकात, फोन कॉल व व्हाट्सएप चैट के जरिए संपर्क में बना हुआ था। ईडी ने खुलासा किया है कि पीएफआई से जुड़े 73 बैंक अकॉउंट में 120 करोड़ रुपया जमा हुआ है। 17 अलग अलग बैंकों में इसके सहयोगी है और अधिकांश पैसा नकद दिया गया है।
अधिकारियों ने बताया कि ये लोग आरोप है कि सारी जमा राशि का दो तिहाई पीएफआई के हेडरक्वार्टर में कैश में दिया गया। ये हेडरक्वार्टर शाहीन बाग में है। इसके क्षेत्रीय कार्यकर्ता पूरे देश से पैसे जमा करके दिल्ली के इस हेडरक्वार्टर में देते हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय फिलहाल उत्तर प्रदेश और असम सरकार द्वारा इसपर बैन लगाने की राय पर विचार कर रहा है। कई पीएफआई कार्यकर्ता सीएए के खिलाफ प्रदर्शन में हिंसा के आरोप में गिरफ्तार हुए हैं। सिर्फ उत्तर प्रदेश में ऐसी 100 से ज्यादा गिरफ्तारियां हुई हैं। इसके अलावा असम, तमिलनाडु, केरल और राजस्थान में भी ऐसे मामले दर्ज हुए हैं। 4 दिसंबर 2019 को गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों से इससे जुड़े मामलों की जानकारी मांगी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *