Tag: मनरेगा के सम्बंध में तथ्यों की अनदेखी कर कौशिक ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा – कांग्रेस कौशिक छुपा रहे रमन सरकार में साल में सिर्फ 28 दिन मनरेगा का काम मिलता था

मनरेगा के सम्बंध में तथ्यों की अनदेखी कर कौशिक ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा – कांग्रेस  ,कौशिक छुपा रहे रमन सरकार में साल में सिर्फ 28 दिन मनरेगा का काम मिलता था_शुक्ला
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मनरेगा के सम्बंध में तथ्यों की अनदेखी कर कौशिक ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा – कांग्रेस ,कौशिक छुपा रहे रमन सरकार में साल में सिर्फ 28 दिन मनरेगा का काम मिलता था_शुक्ला

रायपुर/29 मई 2020। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक द्वारा मनरेगा मजदूरों के संबंध में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखे जाने पर कांग्रेस ने कहा कि कौशिक को पत्र लिखने के पहले आंकड़ो का अध्ययन कर लिए होते तो उन्हें पत्र लिखने की जरूरत ही नही पड़ती। कांग्रेस संचार विभाग के सदस्य और प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि कौशिक ने राजनैतिक वाहवाही लेने और मजदूरों की झूठी संवेदना लेने तथ्यों को बिना देखे या जानबूझकर अनदेखी कर पत्र लिखा है। भाजपा की तत्कालीन रमन सरकार ने मनरेगा के कार्य दिवस को 100 से बढ़ाकर 150 जरूर किया था लेकिन 50 दिन की यह बढ़ोत्तरी सिर्फ कागजों तक सीमित थी। हकीकत में रमन सरकार वर्ष में सिर्फ 26 से 28 दिन ही काम दे पाती थी। इसके लिए सीएजी ने रमन सरकार को कटघरे में खड़ा किया था। भाजपा के रमन सिंह के कार्यकाल में जब मनरेगा के काम का राष्ट्रीय औसत कार्य दिवस वर्ष में 42 दिन का था त...