Tag: मानना तो पड़ेगा गप्पू और पप्पू में मूड और मुद्दे बदलने की जबरदस्त कला है ।

चन्द्र शेखर शर्मा की बात बेबाक,मानना तो पड़ेगा गप्पू और पप्पू में मूड और मुद्दे बदलने की जबरदस्त कला है
लेख-आलेख

चन्द्र शेखर शर्मा की बात बेबाक,मानना तो पड़ेगा गप्पू और पप्पू में मूड और मुद्दे बदलने की जबरदस्त कला है

राजनीति की दुनिया के अपने अलग कायदे है कि यहां कोई कायदा नही होता । राजनीति में रुतबा रुआब और इज़्ज़त होती है जिसके समानांतर कीचड़ भी प्रवाहमान रहता है । जब जब राजनीति में कीचड़ और इज़्ज़त उछलती हैं तब तब राजनीति की गतिशीलता के दर्शन होते हैं वरना राजनीति कीचड़ भरे नाले के समान प्रवाह हीन नज़र आती है जो सौ टका सच भी है । कीचड़ उछालने की क्रिया प्रतिक्रिया अक्सर किसी गंभीर मुद्दों पर घिरते ही या फिर चुनाव पर विरोधियों की छवि धूमिल करने उछाली जाती है । राजनीति है तो कीचड़ उछालने का खेल चलता ही रहेगा । नागरिकता संशोधन विधेयक की बात आते ही नार्थ ईस्ट जलने लगा तो प्रवाहहीन दिख रही राजनीति में "रेप इन इंडिया " के पप्पू छाप जुमले ने ठंड में गर्माहट ला राजनीति के नाले को प्रवाही बना दिया है । देश में जब भी किसी बड़े मुद्दे पर बहस छिड़ती है तो गप्पू और पप्पू छाप बयान लोगो को मूल मुद्दों से भटका देते...