Sunday, September 27

Tag: यह कैसा घोटाला

नि:शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार मे हो रहा है,यह कैसा घोटाला,जैसे दूध की रखवाली का जिम्मा बिल्ली को ही दे डाला- छात्र पालक संघ,छत्तीसगढ़।।
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, राजनांदगांव

नि:शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार मे हो रहा है,यह कैसा घोटाला,जैसे दूध की रखवाली का जिम्मा बिल्ली को ही दे डाला- छात्र पालक संघ,छत्तीसगढ़।।

निजी स्कूलों की मनमानी फीस वसूली को रोकने के लिए आयोग बनाने का दिखावा करने वाली छत्तीसगढ़ सरकार एक तरफ प्रदेश के भोले भाले पालकों को निजी स्कूलों की मनमानी फीस वसूली के बोझ से बचाने का दिखावा कर रही है,वहीं दूसरी तरफ गरीब बच्चों को निःशुल्क शिक्षा प्रदान करने के लिए बनाए गए शिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत प्रवेश प्रक्रिया के लिए समस्त दस्तावेजों की जांच करने की जिम्मेदारी व गरीब बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने की चाबी निजी विद्यालयों को ही दे दी है,जिससे निजी विद्यालयों द्वारा इन गरीब व जरूरतमंद बच्चों के आवेदनों को अपात्र करके उन सीटों पर स्कूल द्वारा निर्धारित लाखों रुपए की मनमानी फीस वसूली की संभावनाएं बढ़ गई है। शिक्षा विभाग के इस फैसले से ऐसा प्रतीत होता है जैसे बिल्ली को ही दूध की रखवाली की जिम्मेदारी दे दी गई है। शिक्षा विभाग के इस फैसले से कई सवाल प्रदेश की जनता के मन में सक...