Friday, September 18

Tag: वैश्विक महाप्रलय से आज़ादी एवं हमारा संघर्ष

वैश्विक महाप्रलय से आज़ादी एवं हमारा संघर्ष
खास खबर, लेख-आलेख

वैश्विक महाप्रलय से आज़ादी एवं हमारा संघर्ष

       डॉ अभिषेक खंडेलवाल                                    लेख लिखते वक्त भारत में कोरोना के लगभग तीस हजार मरीज़ संक्रमित है और लगभग 900 से अधिक मौते हो चुकी है।विश्व में जिस गति से कोरोना संक्रमण फैल रहा है एवं इसकी मुक्ति के लिए जो मनुष्यता का संघर्ष जारी है उसमें सफलता कब हासिल होगी यह भविष्य के गर्भ में है।विश्व के तमाम मेडिकल हस्तियां यह मानती है कि कोरोना हमारे जीवन का हिस्सा बनकर लगभग साल भर तक रहेगा।हमे यह महामारी के साथ साथ जीने की आदत डालनी होगी।जंग लंबी होगी,हिम्मत और समझदारी के साथ ही दैनिक जीवन दोबारा पटरी पर उतारा जा सकता है।क्योंकि जब तक इसके बचाव के लिए वैक्सीन नही आ जाती तब तक संघर्ष जारी रहेगा।क्योंकि लॉकडौन एक स्थाई उपाय नही है,आज नही तो कल लॉकडौन खुलना ही है।जैसे ही लॉकडौन खुलेगा पुनः एक बार कोरोना का संक्रमण फैलने का डर बना रहेगा। इसलिए हम सबको मिलकर इस अनंत समय तक चल...