Tag: सिरमौर नचाये मोर

चोर मचाये शोर, सिरमौर नचाये मोर
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश

चोर मचाये शोर, सिरमौर नचाये मोर

  आलेख : बादल सरोज 🔴 जिन्होंने छपी छपाई किताबों की लुगदी बनवा दी, हजारों ऐतिहासिक किताबों और मूल पांडुलिपियों से भरी एक सदी पुरानी पुणे की भण्डारकर ओरिएण्टल रिसर्च इंस्टिट्यूट की लाइब्रेरी फूंक दी, तमिल कथाकार पेरुमल मुरुगन को अपने लेखक की मौत की घोषणा करने के लिए विवश कर दिया, अनेक संग्रहणीय पुस्तकों के लेखक कलबुर्गी, पानसारे, दाभोलकर, गौरी लंकेश की हत्या तक कर दी; वे इन दिनों एक अनछपी किताब को लेकर "अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता" का झण्डा उठाये अपनी लेखकीय आजादी के छिन जाने का शोर मचाये हुए हैं। हद तो यह है कि प्रकाशक द्वारा उसे न छापे जाने का निर्णय लिए जाने के पीछे उन्हें फासिज्म तक नजर आने लगा है। 🔴 शनिवार 22 अगस्त को पहले ब्लूम्सबरी नामक लन्दन के प्रकाशन संस्थान ने घोषणा की कि वह दिल्ली दंगों से जुडी "दिल्ली रायट्स : द अनटोल्ड स्टोरी" का प्रकाशन नहीं करेगा। इस आशय की घोषणा इस क...