कवर्धा 21गांव के किसानों ने किया प्रदर्शन,चना की क्षति पूर्ति,गन्ना फसल की मूल राशि अब तक नही मिली

कवर्धा -जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 09 के 21 गाँव के किसानों ने अपने गाँव में चना के क्षतिपूर्ति राशि एवं गन्ना के मूल राशि के लिए सरकार के खिलाफ सांकेतिक धरना दिया वही ग्राम छिरहा सहित अन्य ग्रामो के किसान प्रतिनिधियों ने एस डी एम कार्यालय से कलेक्टर कार्यालय तक मानव श्रृंखला बनाकर प्रदर्शन किया बरसते पानी में किसानो ने अपनी मांगो को लेकर क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य विजय शर्मा के साथ तहसीलदार कवर्धा को मांग पत्र ज्ञापन सौपा |
ज्ञात हो दिसम्बर 2019 से अप्रेल 2020 तक हुए बारिश और ओला वृष्टि से जिले के 1,10,000 (एक लाख दस हजार) से अधिक कृषक प्रभावित हुए है और फसल राशि मुआवजा हेतु राजस्व पुस्तक परिपत्र 6 (4) के अन्तर्गत 80 (अस्सी) करोड़ का मुआवजा प्रकरण महीनों पहले शासन को प्रेषित है जिसमें से एक लाख से अधिक कृषकों को एक रूपया भी मुआवजा प्राप्त नहीं है। जिला प्रशासन ने छ.ग. शासन को अनेक पत्र शेष 72 करोड़ के लिए लिखा है परन्तु राशि अब भी अप्राप्त है।
भोरमदेव सहकारी शक्कर कारखाना को गन्ना उपलब्ध करवाने वाले क्षेत्र में 12077 किसानों को 57 करोड़ 2 लाख रूपया दिया जाना महीनों से शेष है और विशेष बात ये है कि ये समर्थन मूल्य 261.25 रू. प्रति क्विंटल की राशि है।
साथ ही सरदार वल्लभ भाई पटेल शक्कर कारखाना में 7640 किसानों को 25 करोड़ रूपये की राशि का भुगतान किया जाना शेष है और ये राशि भी गन्ने के समर्थन मूल्य की राशि है।
गन्ना के भुगतान और रबि फसल 2019 क्षति मुआवजा के उपरोक्त मांगो को लेकर अनेक बार जिला प्रशासन के माध्यम से ध्यानाकर्षण किया गया है परन्तु किसान अब तक अपने अधिकार से वंचित है। जिसके लिए किसानो ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम एस डी एम कवर्धा को ज्ञापन दिया |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *