राम मंदिर शिलान्यास के लिए 3 या 5 अगस्त में से पीएमओ तय करेगा तारीख, बदलेगा राम मंदिर का नक्शा

अयोध्या। अयोध्या में रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की शनिवार को बैठक हुई। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य कामेश्वर चौपाल ने बताया कि ट्र्स्ट की तरफ से प्रधानमंत्री कार्यालय को 3 अगस्त और 5 अगस्त की तारीख भेजी गई है। शिलान्यास की तारीख पर आखिरी फैसला प्रधानमंत्री कार्यालय को लेना है। उम्मीद है प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम में आएं।
इसके अलावा बैठक में मंदिर की ऊंचाई और निर्माण की व्यवस्थाओं पर भी चर्चा हुई। तय हुआ कि मंदिर के नक्शे में परिवर्तन किया जाएगा। अब राम मंदिर161 फीट ऊंचा होगा । वहीं अभी तक तीन गुंबद बनाए जाने थे, बैठक में तय हुआ कि अब पांच गुंबद बनाए जाएं। बैठक के बाद ट्रस्ट के सदस्य रामलला के दर्शन के लिए रवाना हो गए। यह बैठक अयोध्या के सर्किट हाउस में दोपहर तीन बजे शुरू हुई, करीब ढाई घंटे तक ट्रस्ट की बैठक चली।
रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की बैठक में महंत नृत्यगोपाल दास, चंपत राय, गोविंद देव गिरी, युगपुरुष स्वामी परमानंद, दिनेन्द्र दास, डा. अनिल मिश्र, विमलेन्द्र मोहन प्रताप मिश्र, कामेश्वर चौपाल, नृपेन्द्र मिश्र, अवनीश अवस्थी, अनुजकुमार झा के अलावा संघ के सर कार्यवाह डा. कृष्णगोपाल, विहिप संरक्षक दिनेशचंद्र, महंत कमलनयन दास, निखिल सोमपुरा, आशीष सोमपुरा बैठक में शामिल रहे। के पारासरण, जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती, माध्वाचार्य स्वामी विश्व प्रसन्न तीर्थ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए। केन्द्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारी ज्ञानेश कुमार नहीं पहुंचे। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से 3 और 5 अगस्त इन तिथियों में से किसी एक पर सहमति दिए जाने के बाद भूमि पूजन और आधारशिला रखने की तिथि तय होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *