संत सनातन पर घात स्वीकार नही चकरप्राणि महाराज ने कोरोना का हवाला देते हुए की जेल में बंद सन्तो को रिहा करने की मांग,

छत्तीसगढ़ संत महासभा के प्रदेशाध्यक्ष स्वामी राजेश्वरानंद सुरेश्वर महादेव पीठ रायपुर से आज प्रेस रिलीज जारी किया गया और राज्य सरकार से अपील और प्रबुद्धजनों का ध्यानाकर्षण चाहते हैं प्रस्तुत है बिन्दुवार राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि द्वारा भारत सरकार को वेर्ट्यूएल रैली में पारित ज्ञापन सौंपा गया जिसकी प्रमुख बाते इस प्रकार है महाराष्ट्र पालघर हत्याकांड की जांच,झूठे आरोपों से व्यथित संत आयोग की मांग,कोरोना महामारी की वजह से जेल में बंद साधु संतों की रिहाई की मांग ताकि घर पर रहे सुरक्षित रहे,आजकल साधु संत लोगो को आपराधिक तत्वों द्वारा धमकियां मिल रही है अंकुश लगना चाहिए और कठोर भा.द.वि.के अंतर्गत कठोर दंड का कानून पास होना चाहिए,मंदिरों की सुरक्षा हेतु ठोस कदम उठाना चाहिए ताकि हत्या,हमला,जघन्य अपराध रुक सके,वेब सीरीज में चल रहे अपराध रोकने के लिए सायबर सेल में अलग से नियुक्ति होनी चाहिए,छालीवुड और बॉलीवुड में धार्मिक स्थल पर मजाक मस्ती बंद होनी चाहिए सेंसरबोर्ड को आदेशित किया जाए हिन्दू देवी देवताओं का अपमान बर्दास्त नही किया जाएगा आजकल प्रायोजित करके अन्य समुदाय नुकसान पहुंचा रहे हैं,कोरोना काल मे गरीब पंडित मंदिर मठों में वित्तीय सहायता का प्रावधान होना चाहिए,निशुल्क तीर्थयात्रा एवं चिकिस्ता उपलब्ध होनी चाहिए,व्यसन मदिरा मुक्त प्रदेश होना चाहिए
इस राष्ट्रीय बैठक में हरियाणा से स्वामी अवधेशानंद,दिल्ली से स्वामी पातालनाथ,पंजाब से स्वामी दाताराम,छत्तीसगढ़ से स्वामी राजेश्वरानंद,उत्तराखंड हरिद्वार से स्वामी रामस्वरूप,प्रयागराज से स्वामी अवेदेतातमन आदि उपस्तिथ हुए
छत्तीसगढ़ प्रदेश में सर्वसम्मिति से ऑनलाइन मीटिंग के द्वारा संत महासभा के एजेंडों को ध्वनिमत से पारित किया गया और स्वामी राजेश्वरानंद के आह्वान पर हिंदु समाज एक प्रतिलिपी महामहिम राज्यपाल महोदया और प्रदेश के मुखिया भुपेश बघेल को और गृहमंत्री को प्रेषित किया जाएगा और निवेदन किया गया कि साधु संत छत्तीसगढ़ महतारी माता कौशल्या के प्रदेश को फिर से धान का कटोरा बनाने हेतु हर मंदिरों देवालयों पर यज्ञ किया जाएगा धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *