गांधीजी के अहिंसा वादी सिद्धांतों से प्रभावित होकर मिलिशिया कमांडर व डीकेएमएस अध्यक्ष सहित 16 नक्सलियों ने आज लाल आतंक से नाता तोड़ा*

संजीव दास- दंतेवाड़ा

नकुलनार।राष्ट्रपिता महात्‍मा गांधी की पुण्यतिथि पर गांधीजी के अहिंसा वादी सिद्धांतों से प्रभावित होकर आज 2 इनामी नक्सली सहित कुल 16 माओवादी ने किरंदुल थाने में आकर आत्म समर्पण किया।
दंतेवाड़ा जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान “लोन वर्राटु” घर वापस आइये के तहत शनिवार को 2 इनामी नक्सली सहित कुल 16 माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है।एस पी डॉ अभिषेक पल्लव के अनुसार आत्मसमर्पित माओवादि
भैरमगढ़ मलांगिर एरिया कमेटी के मिलिशिया कमांडर मड़काम हुर्रा व डीकेएमएस अध्यक्ष हूंगा पर एक एक लाख का इनाम घोषित था।समाज के मुख्यधारा से जुड़ने के बाद इनका कहना है कि नक्सली संगठन के खोखले विचारधारा छोड़कर समाज के मुख्यधारा में शामिल हो रहे है। डॉ अभिषेक पल्लव का कहना है कि नक्सली संगठन में सक्रिय माओवादियों से आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने के लिए लगातार आह्वान कर अपील किया जा रहा है इसी आह्वान पर माओवादी मुख्यधारा से जुड़ कर समाज के विकास में सहयोग करेंगे। छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पण के बाद माओवादियों को 10-10 हजार रुपया का प्रोत्साहन राशि दिया गया।B
इस दौरान पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव डीआईजी विनय कुमार सिंह राजीव तिवारी चंद्रशेखर डब्ल्यू आर जोसवा कमांडेंट 23 बटालियन, यू किरण अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, राजेंद्र जायसवाल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, देवांश सिंह राठौर पुलिस अनुविभागीय अधिकारी किरंदुल, एसपी अमर सिदार ,सुश्री आशारानी एवं थाना प्रभारी डीके बड़वा आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *