Friday, June 14

फलदार पौधरोपंण हेतु 1854500 स्वीकृत 1854500 व्यय और सभी पौधों का मौके पर अतापता नहीं

केशकाल –  वन विभाग के द्वारा कैंम्पा योजना अंतर्गत बडेडोंगर में दंतेश्वरी माता  मंदिर के परिसर में वित्त वर्ष 2014- 15 में  आंतरिक हटमेन्ट निर्माण चैनलिंग फैंसिंग सवागत द्वार निर्मांण सी.सी.रोड निर्मांण पैगोडा निर्मांण कार्य और फलधार पौधा रोपंण हेतु  प्राक्लन स्वीकृत करके धनराशि प्रदान किया गया था । 

स्वीकृत धनराशि और करवाये गये कार्य के संबध में कंही पर भी जन सूचना फलक नहीं लगाया गया था । 29 मई 2022 में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बडेडोंगर आगमन के समय मंदिर परिसर में करवाये जाने वाले स्वीकृत कार्य में गडबडी किये जाने तथा कार्य अपूर्ण रहने को लेकर सोशल मिडिया – मिडिया मे मसला उठने पर वन विभाग वालों ने आनन फानन में एक कामचलाऊ फ्लैक्स बनवाकर मंदिर के मुहाने पर ही लगवा दिया गया । लगवाये गये फ्लैक्स में 17लाख 73000  के आंतरिक हटमेंन्ट निर्मांण पर 11लाख 80062 व्यय होना बताते अपूर्ण दर्शाया गया । वंही फलदार पौधारोपंण हेतु स्वीकृत 18 लाख 54500 में से संपूर्ण धनराशि 1854500 व्यय होना दर्शाया गया ,जिस पर लोग हैरत जाहिर करते हैं कि वन विभाग वालों ने तो कमाल कर दिखाया स्वीकृत धनराशि का आना पाई हिसाब रखते खर्च कर दिया जो सामान्य तौर पर हो नहीं पाता ।

फलदार पौधारोपंण हेतु स्वीकृत धनराशि से लगवाया गया फलदार पौधा वन विभाग वालों ने कब कंहा किस किस प्रजाति का फलदार पौधा लगवा दिया था यह आज तक किसी को मालूम नहीं  । स्वीकृति अनुसार फलदार पौधों का रोपंण मंदिर परिसर में होना था परन्तु मंदिर परिसर या मंदिर के आसपास कंही पर भी एक पौधा नजर नहीं आता । इसलिये लोग अब यह कहने लगे हैं की 2014-15 में लगवाये गये पौधों पर अब 7-8 वर्ष में फल लगना शुरू हो जाना था पर हालत यह है कि दूर दूर तक कंही पर भी एक भी फलदार पौधा दिखाई नहीं देता । जिसके चलते लोग यह कहने लगे हैं की वन विभाग वालों ने फलदार पौधारोपंण के नाम से स्वीकृत संपूर्ण धनराशि को सफाचट किया उसी तर्ज पर फलदार  संपूर्ण पौधो को भी सफाचट कर दिया न रहे बांस न बजे बांसुरी की कहावत को सार्थक करते हुये ।

वन विभाग अगर  कैम्पा मद से स्वीकृत कार्यों का प्राक्लन के अनुसार भौतिक सत्यापन और करवाये गये कार्य का मूल्यांकन करवायेगा तो आंतरिक हटमैन्ट निर्मांण ,चैनलिंग फैंसिंग कार्य मे बडे पैमाने पर आर्थिक अनियमितता करने का मामला उजागर होने के सांथ फलदार पौधारोपंण के नाम स्वीकृत धनराशि बगैर पौधारोपंण किये ही संपूर्ण स्वीकृत राशि डकार जाने का हैरत भरा कारनामा उजागर हो जायेगा बशर्ते निष्पक्षता पूर्वक ईमानदारी से जांच हो ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *