Day: May 16, 2022

खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, बिलासपुर

दंगे फैलाने में माहिर भारतीय जनता पार्टी आखिर धरना प्रदर्शन की जानकारी देने में क्यों घबरा रही है, भाजपा नेता नौटंकी बंद करे – कांग्रेस

  भाजपा के 16 मई को आयोजित जेल भरो आंदोलन को नौटंकी करार देते हुए और जेल भरो आंदोलन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, जिला पंचायत अरूण सिंह चौहान, महापौर रामशरण यादव, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष प्रमोद नायक, प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय, बिल्हा छाया विधायक राजेन्द्र शुक्ला ने संयुक्त रूप से कहा कि 15 साल तक रमन सिंह सरकार ने जिस नियम के तहत धरना आंदोलन की अनुमति दी जाती थी, वही नियम वर्तमान की भूपेश सरकार में भी लागू है, आखिर धरना प्रदर्शन या आंदोलन की जानकारी एक निश्चित प्रोफार्मा में शासन को देने में क्या आपत्ति है, धरमलाल कौशिक, अमर अग्रवाल, कृष्णमूर्ति बांधी, रजनीश सिंह यह बताये कि 15 साल की भाजपा सरकार में यह नियम नहीं था, कांग्रेस नेताओं ने कहा कि देश के भाजपा शासित राज्यों में धरना प्रदर्शन के लिए कौन सा नियम लागू है, उत्तरप्रदेश, गुज...
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, जगदलपुर

बस्तर की डायरी मांढर की थाप पर थिरकते दिख रहे है आदिवासी

0 डगर.डगर में गीतों का रेला फूट पड़ता है  (साधुराम दुल्हानी) अभाव ग्रस्त जीवन के बावजूद बस्तर के जनजातिय परिवार उन्मुक्त होकर मांदर की थाप में थिरकते दीख पड़ते है। अबूझमाड़ भी गोटुल परंपरा के तहत आदिवासी अपने मनोरंजन के लिए निकल पड़ते है और गोटुल में इक_े होते है। पुलिस प्रशासन की व्यवस्था के चलते लोगों में अब डर खत्म होता जा रहा है। शाम गहराने के साथ गांव.गांव  डगर.डगर में गीतों का रेला फूट पड़ता है। अपना अस्तित्व बचाने में लगे है माओवादी विगत तीन दशकों के दौरान जिस प्रकार लाल आतंक का साया गहराता गया उसने बस्तर के जन जीवन को गहन असुरक्षा के बीच धकेल दिया है। अब हालात ये है कि नक्सलवाद अपने वास्तविक धरातल से दूर होने के बावजूद आतंक निर्दोष हत्याओं के सिलसिले को अर्थतंत्र से ओड़क्र अपनी धाक अपना अस्तित्व बचाने की जुगत में जुटा हुआ है। सच तो ये है कि वर्तमान परिप्रेक्ष्य में नक्सलवाद का ...
प्रदेश की भूपेश सरकार आदिवासियों के कल्याण के प्रति कृत संकल्पित : लखमा
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, बीजापुर

प्रदेश की भूपेश सरकार आदिवासियों के कल्याण के प्रति कृत संकल्पित : लखमा

0 शिक्षा का अलख जगाना होगा, शिक्षा से ही बढ़ेंगे आगे वनवासी (साधु राम दुल्हानी ) बीजापुर।  बीजापुर के प्रभारी मंत्री एवं आबकारी तथा उद्योग मंत्री बीजापुर पहुंचे। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य एवं सुपोषण कार्यक्रमों की सराहना की। उन्होंने कहा कि विकास की ओर अग्रसर बीजापुर जिला आगे चलकर नए आयाम स्थापित करेगा। जिले के ग्राम मूसालूर में आयोजित संभागीय गोंडवाना सम्मेलन के समापन के अवसर पर समाज के पदाधिकारियों और सदस्यों द्वारा लोक नृत्य एवं बाजे-गाजे के साथ अतिथियों का उत्साहपूर्वक स्वागत किया। वहीं अतिथियों ने क्षेत्र के देवी-देवताओं तथा देव विग्रहों की पूजा-अर्चना कर समाज के खुशहाली एवं समृद्धि का आर्शीवाद मांगा। इस मौके पर आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा क्षेत्रीय विधायक एवं उपाध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण विक्रम मंडावी, पूर्व सांसद एवं समाज के प्रदेश पदाधिकारी सोहन पोटाई, गोंडवाना समाज क...
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

 आप ज्वाइन करने वालों की लिस्ट में नाम त्रुटि सुधार

 में जारी पार्टी ज्वाइन करने वालों की लिस्ट में नाम त्रुटि सुधार रायपुर। दिनांक 15 मई 2022 को आम आदमी पार्टी की ओर से सतनामी समाज के प्रबुद्धजनों की लिस्ट जारी हुई थी जिसमें त्रुटिवश निम्न नाम जुड़ गए थे। इन्होंने आम आदमी पार्टी में किसी प्रकार की सदस्यता नहीं ली है और इनका पार्टी से कोई सम्बंध नही है। त्रुटि के लिए खेद है। ये नाम निम्नलिखित है, श्री उमा प्रसाद जोशी श्री राधे श्याम टंडन श्री विजय कुर्रे श्री भरत बंजारे श्री संतोष मिरी। त्रुटि सुधार अपेक्षित।  ...
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, रायपुर

मजबूत इरादों से मूकबधिर एवन्ती ने लिखी अपनी तकदीर सिलाई सीख कर तय की स्वावलम्बन की नई राह

रायपुर, 16 मई 2022/ कुछ लोग अपने मजबूत इरादों से अपनी तकदीर लिखते हैं। ऐसे लोगों में से एक कोण्डागांव के मर्दापाल के निकट बसे नक्सलप्रभावित गांव बादालूर की दिव्यांग एवन्ती विश्वकर्मा भी हैं। बोलने और सुनने में असमर्थ एवंती ने अपनी मेहनत से अपने स्वावलंबन की राह तय की है। अब वह सिलाई सीख कर अपने पैरो पर खड़ी हो गई हैं। राज्य सरकार द्वारा संचालित गारमेंट फैक्टरी में काम कर उसने अपनी दिव्यांगता को भी मात दे दी है। एवन्ती के पिता श्री मंगू विश्वकर्मा बताते हैं कि 20 वर्षीय एवन्ती बचपन से ही सुन-बोल नहीं पाती है, इसके कारण उसकी शिक्षा बहुत कठिन हो गई थी। एवन्ती ने अपनी शारीरिक कमी को कभी खुद पर हावी होने नहीं दिया। वह हमेशा खुश रहा करती थी। एवन्ती की आंखों में हमेशा अपने पैरों पर खड़े होने का सपना रहता था। एवन्ती ने दसवीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद उसने अपने परिजनों एवं शिक्षकों से आत्मनिर्भर...
कारपोरेटी मुनाफे के यज्ञ कुंड में मनु के हाथों स्वाहा होते आदिवासी *(आलेख : बादल सरोज)*
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

कारपोरेटी मुनाफे के यज्ञ कुंड में मनु के हाथों स्वाहा होते आदिवासी *(आलेख : बादल सरोज)*

    2 तथा 3 मई की दरमियानी रात मध्य प्रदेश के सिवनी जिले के गाँव सिमरिया में जो हुआ, वह भयानक था। बाहर से गाड़ियों में लदकर पहुंचे बजरंग दल और राम सेना के गुंडा गिरोह ने पहले घर में सोते हुए आदिवासी धनसा इनवाती को निकाला, उसके बाद दूसरे आदिवासी सम्पत बट्टी को उनके घरों से निकाला और लाठियों से पीट-पीटकर ढेर कर दिया। चीखपुकार सुनकर जब आस-पड़ोस के दो गाँवों की भीड़ इकट्ठा हो गयी, तो इन गुंडों ने ही पुलिस को फोन किया। पुलिस आयी और बजाय हमलावरों के इन दोनों आदिवासियों को ही उठाकर ले गयी। ग्रामीणों के मुताबिक़ रास्ते में और उसके बाद बादलपुर पुलिस चौकी में इस गुंडा गिरोह और पुलिस दोनों ने मिलकर फिर धनसा और सम्पत की पिटाई की। उसके बाद बजाय सिवनी के जिला अस्पताल ले जाने के उन्हें कुरई के उस अस्पताल में ले गयी, जहां कोई डॉक्टर ही नहीं था।          सुबह होने से पहले धनसा और उसके बाद सम्प...