Wednesday, December 7

Day: July 6, 2022

मुख्यमंत्री 7 जुलाई को गोधन न्याय योजना के हितग्राहियों को करेंगे 10 करोड़ 84 लाख रूपए का भुगतान
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मुख्यमंत्री 7 जुलाई को गोधन न्याय योजना के हितग्राहियों को करेंगे 10 करोड़ 84 लाख रूपए का भुगतान

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 07 जुलाई को रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से गोधन न्याय योजना के तहत पशुपालक ग्रामीणों, गौठानों से जुड़ी महिला समूहों और गौठान समितियों को 10 करोड़ 84 लाख रूपए की राशि ऑनलाइन जारी करेंगे, जिसमें 15 जून से 30 जून तक राज्य के गौठानों में पशुपालक ग्रामीणों, किसानों, भूमिहीनों से क्रय किए गए गोबर के एवज में 3.69 करोड़ रूपए भुगतान, गौठान समितियों को 4.31 करोड़ और महिला समूहों को 2.84 करोड़ रूपए की लाभांश राशि शामिल हैं. गोधन न्याय योजना अंतर्गत अब तक हितग्राहियों को 283 करोड़ 10 लाख रूपए का भुगतान किया जा चुका है. 07 जुलाई को 10.84 करोड़ के भुगतान के बाद यह आंकड़ा 293 करोड़ 94 लाख रूपए हो जाएगा. गोधन न्याय योजना देश-दुनिया की इकलौती ऐसी योजना है, जिसके तहत छत्तीसगढ़ राज्य के गौठानों में 2 रूपए किलो की दर से गोबर की खरीदी की जा र...
छत्तीसगढ़ के गोधन न्याय और मितान योजना को मिली प्रशंसा
छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ के गोधन न्याय और मितान योजना को मिली प्रशंसा

रायपुर. छत्तीसगढ़ के महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना और मितान योजना को गुजरात के अहमदाबाद स्थित गांधीनगर महात्मा मंदिर में 4 से 9 जुलाई 2022 तक आयोजित डिजिटल इंडिया सप्ताह में सराहना मिली है. छत्तीसगढ़ की ओर से आज तीसरे दिन आयोजित कांफ्रेंस में भाग लेते हुए इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के विशेष सचिव एवं छत्तीसगढ़ इन्फोटेक प्रमोशन सोसायटी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी समीर विश्नोई ने राज्य की महत्वाकांक्षी मितान योजना की विस्तृत जानकारी प्रदान की. विश्नोई ने बताया कि राज्य शासन द्वारा प्रारंभ की गई मितान योजना का मुख्य उद्देश्य शासकीय सेवा वितरण प्रणाली में सुधार लाते हुए नागरिकों को घर पहुंच सेवा का लाभ प्रदान करना है. इसके अलावा गोधन न्याय योजना की भी जानकारी प्रदान की गई. मंच संचालन कर रहे भारत शासन सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सचिव राजेंद्र कुमार ने राज्य सरकार द्वारा नवाचार ...
छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण आंदोलन में रामाधार कश्यप की थी, अग्रणी भूमिका: भूपेश बघेल
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण आंदोलन में रामाधार कश्यप की थी, अग्रणी भूमिका: भूपेश बघेल

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बिलासपुर के लखीराम ऑडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण आंदोलन के अग्रिम पंक्ति के नेता एवं पूर्व राज्यसभा सांसद स्वर्गीय रामाधार कश्यप के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर आधारित पुस्तक ‘‘पृथक छत्तीसगढ़ आंदोलन के दुर्धर्ष नायक: रामाधार कश्यप’’ का विमोचन किया. उन्होंने स्वर्गीय रामाधार कश्यप की प्रथम पुण्यतिथि पर उनके छायाचित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर बिलासपुर शहर के किसी प्रमुख चौक पर स्वर्गीय रामाधार कश्यप की प्रतिमा स्थापित करने की घोषणा की. कार्यक्रम की अध्यक्षता छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने की. मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर स्वर्गीय रामाधार कश्यप के अनन्य सहयोगी मन्नूलाल साहू एवं सुशील भोले को आयोजन समिति की ओर से शाल एवं श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया. ‘‘पृथक छत्तीसगढ़ आंदोलन...
‘दामिनी’ एप्प से आकाशीय बिजली गिरने से पहले मिल सकेगी जानकारी
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

‘दामिनी’ एप्प से आकाशीय बिजली गिरने से पहले मिल सकेगी जानकारी

जशपुरनगर. अब आकाशीय बिजली गिरने से पहले ही लोगों को सूचना प्राप्त हो सकेगा. साथ ही किसान घर बैठे मौसम की पूर्वानुमान की जानकारी प्राप्त करेंगे. भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान पुणे द्वारा मोबाइल एप्प ‘‘दामिनी’’ लांच किया गया है. जिससे आकाशीय बिजली गिरने की अलर्ट मिलने के साथ ही किसानों को मौसम के हर पल की जानकारी मिलेगी. इस एप्प से खेतों में काम कर रहे किसानों या खुले में काम करने वाले अन्य लोगों को बिजली गिरने से पहले ही सावधान रहने की सूचना मिल जाएगी और वे सुरक्षित स्थान पर जा सकेगे. दामिनी एप्प की विशेषता यह है कि एप्प 20 किलोमीटर के दायरे में बिजली गिरने की चेतावनी देगा. इस एप्प से मोबाईल फोन पर लोगों को वज्रपात के बारे में अलर्ट मिलेगा. यह एप्प नेटवर्क बिजली की गड़गड़ाहट और वज्रपात की गति के बारे में सटीक जानकारी देगा. एप्प में लाल रंग प्र...
जी न्यूज के समाचार प्रस्तोता रोहित रंजन ‘फरार’ : रायपुर पुलिस का दावा
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

जी न्यूज के समाचार प्रस्तोता रोहित रंजन ‘फरार’ : रायपुर पुलिस का दावा

रायपुर. समाचार चैनल जी न्यूज के प्रस्तोता रोहित रंजन की गिरफ्तारी को लेकर उत्तर प्रदेश की पुलिस के साथ टकराव के दूसरे दिन रायपुर पुलिस बुधवार को एक बार फिर रंजन के घर पहुंची लेकिन वह वहां नहीं मिले. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक पुलिस ने रंजन का फरारी पंचनामा तैयार किया है. रायपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने बताया, ‘‘रायपुर का पुलिस दल आज सुबह करीब नौ बजे रोहित रंजन के गाजियाबाद स्थित निवास पर पहुंचा. घर में ताला लगाकर फरार पाए जाने से आरोपी का फरारी पंचनामा तैयार किया गया है. अन्य संभावित स्थानों पर आरोपी की तलाश की जा रही है.’’ रायपुर जिले के पुलिस अधिकारियों के मुताबिक कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान को ''गलत संदर्भ'' में दिखाने के मामले में रंजन के खिलाफ रायपुर में प्राथमिकी दर्ज की गई है. कांग्रेस शासित राज्य छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले की पुलिस मंगलवार तड़के पत्रकार ...
रायपुर: पुजारी बाबा के खिलाफ गबन और धोखाधड़ी का मामला दर्ज
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

रायपुर: पुजारी बाबा के खिलाफ गबन और धोखाधड़ी का मामला दर्ज

रायपुर: राजधानी रायपुर के गुढ़ियारी पुलिस ने पुजारी बाबा के खिलाफ गबन और धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। पुजारी कमल जगत ने सीएसपीडीसीएल के सुपरवाइजर के परिवार पर जान का ख़तरा और संकट बताकर ठगी की थी। जिसके बाद प्रार्थी परमेश्वर नारायण कन्नौजे ने मामले की शिकायत गुढ़ियारी थाने में दर्ज कराई थी। दरअसल, 2020 में पुजारी कमल जगत ने परमेश्वर के ग्रह नक्षत्र खराब होने की बात कह कर डराया धमकाया था। जान का ख़तरा और संकट की बात कहकर प्रार्थी से सवा दो लाख रुपये नगद और सोने के आभूषण अपने पास पूजा के लिए रखवा लिया। फिर बाद में नगदी और सोने के आभूषण लौटाने से इनकार कर दिया। इसके बाद प्रार्थी ने मामले की शिकायत गुढ़ियारी थाने में दर्ज कराई। शिकायत के बाद पुलिस मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई कर रही है। ...
निजी स्कूलों को चेतावनी: ड्रेस और किताबों के लिए दबाव डालने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

निजी स्कूलों को चेतावनी: ड्रेस और किताबों के लिए दबाव डालने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

रायपुर: एक बार फिर से प्रशासन ने स्कूल संचालकों को चेतावनी( warning) दी है। लोक शिक्षक संचालक ने निजी स्कूलों को चेतावनी देते हुए कहा है कि RTI के बच्चों को जबरन ड्रेस और किताबें( books) खरीदने का दबाव डालने पर उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगी। आपको बता दे एक पत्र सभी जिलों को लिखकर मॉनिटरिंग( monitoring) करने के लिए DEO को निर्देश दिए गए हैं। बताया जा रहा है कुछ निजी स्कूलों की इस मनमानी के कारण 8 से 10 हजार का पालकों को आर्थिक भार आ रहा था। अब प्रशासन के इस आदेश के बाद से गरीब पालकों को राहत मिलेगी। प्रवेश( enter ) ही RTI के तहत हुआ प्रशासन को इस बात की शिकायत मिल रही थी निजी स्कूल संचालक उन गरीब बच्चों पर भी किताबें और ड्रेस खरीदवाने का दबाव डाल रहे हैं जिनका प्रवेश ही RTI के तहत हुआ है। ...