Monday, November 28

Day: August 18, 2022

मुख्यमंत्री जन्माष्टमी के दिन राजधानी के ’कृष्ण-कुंज’ में पौधरोपण की करेंगे शुरूआत
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मुख्यमंत्री जन्माष्टमी के दिन राजधानी के ’कृष्ण-कुंज’ में पौधरोपण की करेंगे शुरूआत

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जन्माष्टमी के अवसर पर राजधानी रायपुर के तेलीबांधा में विकसित किए जा रहे कृष्ण-कुंज में सांस्कृतिक एवं जीवनोपयोगी वृक्षों का रोपण की शुरूआत करेंगे. बघेल की पहल पर छत्तीसगढ़ के सभी नगरीय क्षेत्रों में ’कृष्ण कुंज’ विकसित किए जा रहे हैं. जन्माष्टमी के अवसर पर कृष्ण कुंज में बरगद, पीपल, कदंब जैसे सांस्कृतिक महत्व के एवं जीवनोपयोगी आम, इमली, बेर, गंगा इमली, जामुन, गंगा बेर, शहतूत, तेंदू ,चिरौंजी, अनार, कैथा, नीम, गुलर, पलास, अमरूद, सीताफल, बेल, आंवला के वृक्षों का रोपण किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने सभी कलेक्टरों को ’कृष्ण-कुंज’ विकसित करने के लिए वन विभाग को न्यूनतम एक एकड़ भूमि का आबंटन करने के निर्देश दिए हैं. अब तक राज्य के 162 स्थलों को ’कृष्ण कुंज’ के लिए चिन्हांकित कर लिया गया है. वृक्षारोपण की तैयारी भी बड़ी उत्साह के साथ की जा रही है. इस कृष्ण जन्माष्टमी से पूर...
आम जनता की आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुंचाने वाले निर्णय लगातार ले रही है केंद्र सरकार: भूपेश बघेल
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

आम जनता की आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुंचाने वाले निर्णय लगातार ले रही है केंद्र सरकार: भूपेश बघेल

नयी दिल्ली. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महंगाई के मुद्दे को लेकर बृहस्पतिवार केंद्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि वह महंगाई से लोगों को राहत दिलाने की बजाय लगातार आम जनता की आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुंचाने वाले निर्णय लगातार ले रही है. उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘देश में लगातार महंगाई बढ़ रही है. पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में वृद्धि होने से परिवहन सेवाओं की लागत बढ़ती है. इससे दैनिक उपयोग की चीजों के दाम बढ़ते हैं.’’ बघेल ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार महंगाई से निजात तो दिला नहीं रही है, बल्कि उल्टा दूध से बनी वस्तुओं को जीएसटी के दायरे में ला रही है.’’ उनका यह भी कहना था कि ये सरकार रेलगाड़ियां बंद कर रही है जो दुनिया में कभी नहीं हुआ तथा किराये में वृद्धि कर रही है. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार आम जनता की आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुंचाने वाले निर्णय लगातार ले रही है.’’...
छत्तीसगढ़ में अब शुरू होगा ‘स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम आदर्श महाविद्यालय’
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ में अब शुरू होगा ‘स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम आदर्श महाविद्यालय’

रायपुर. छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल योजना के बाद अब स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम आदर्श महाविद्यालय शुरू करने का फैसला किया है. जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम आदर्श महाविद्यालय शुरू करने का फैसला किया है. उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके लिए मुख्य सचिव को 10 दिनों के भीतर कार्ययोजना प्रस्तुत करने का निर्देश दिया  है. अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री बघेल ने मुख्य सचिव से कहा है कि राज्य में अंग्रेजी माध्यम के अनेक निजी और शासकीय स्कूल संचालित किये जा रहे हैं. राज्य में अंग्रेजी माध्यम के शासकीय महाविद्यालय न होने के कारण राज्य के विद्यार्थियों को 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए महानगरों के महाविद्या...
राज्य शासन द्वारा श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ में ’शुष्क दिवस’ घोषित
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

राज्य शासन द्वारा श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ में ’शुष्क दिवस’ घोषित

रायपुर. राज्य शासन द्वारा 19 अगस्त को ’श्री कृष्ण जन्माष्टमी’ के दिन सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ में शुष्क दिवस घोषित किया गया है. इसी तरह ’श्री कृष्ण जन्माष्टमी’ पर नगरीय निकायों की सीमा में स्थित पशुवध गृह एवं मांस बिक्री दुकाने बंद रहेगी. वाणिज्यिक कर (आबकारी) विभाग द्वारा शुष्क दिवस तथा नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा पशुवध गृह बंद रखने के संबंध में मंत्रालय से आदेश जारी कर दिया गया है. शुष्क दिवस में प्रदेश के जिलों में स्थित समस्त देशी मदिरा एवं विदेशी मदिरा की फुटकर दुकानों, रेस्टोरंेट बार, होटल बार, क्लब आदि बंद रखे जाएंगे. जिला, संभाग और राज्य स्तरीय उड़नदस्तों द्वारा अवैध मदिरा के परिवहन एवं विक्रय रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर छत्तीसगढ़ में ’शुष्क दिवस’ घोषित किया गया है. मंत्रालय से ’शुष्क दि...
छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के 24 मोटल-रिसॉर्ट को 30 वर्षों के लिए लीज पर दिए जाने हेतु कार्यवाही प्रारंभ
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के 24 मोटल-रिसॉर्ट को 30 वर्षों के लिए लीज पर दिए जाने हेतु कार्यवाही प्रारंभ

रायपुर. छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड छत्तीसगढ़ एवं अन्य राज्यों के अनुभवी निजी निवेशकों को आमंत्रित कर पर्यटकों को व्यवसायिक दृष्टिकोण से और अधिक सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रयासरत है. इसके लिए टूरिज्म बोर्ड अपने मोटल एवं रिसॉर्ट के संचालन के लिए उन्हें 30 वर्षों के लीज पर दिए जाने की कार्यवाही कर रहा है.इसका उद्देश्य ये है कि छत्तीसगढ़ में पर्यटन के विकास की दिशा को सक्षम गति प्राप्त हो सके. छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के 24 मोटल- रिसॉर्ट को 30 वर्षों के लिए लीज पर लेने के लिए छत्तीसगढ़ एवं अन्य राज्यों के निजी निवेशक 05 सितम्बर 2022 तक आवेदन कर सकते हैं. छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड द्वारा पूर्व में की गई निविदा के माध्यम से रायगढ़ और सरगुजा में स्थित मोटल के संचालन हेतु सफल निविदाकर्ताओं को उनके द्वारा प्रस्तुत अधिकतम वित्तीय प्रस्ताव को समिति द्वारा मान्य किया गया है और शीघ्र ही इन इकाईयों का संचालन सफल...