Monday, November 28

Day: September 4, 2022

देश की आजादी में जनजातीय नायकों की रही महत्वपूर्ण भूमिकाः उइके
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

देश की आजादी में जनजातीय नायकों की रही महत्वपूर्ण भूमिकाः उइके

रायपुर. राज्यपाल अनुसुईया उइके आज भारतीय प्रबंधन संस्थान रायपुर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शामिल र्हुइं. उइके ने कार्यक्रम में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि यह बड़े गर्व की बात है कि आजादी के इस अमृत महोत्सव वर्ष में देश-भर के विभिन्न विश्वविद्यालयों में स्वतंत्रता संग्राम में जनजातीय योगदान विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. राज्यपाल उइके ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रारंभ की गई अद्भुत पहल है. इसके द्वारा देश की स्वतंत्रता में योगदान देने वाले उन सभी गुमनाम आदिवासी नायकों को पहचान मिलेगी . इससे देश के प्रति इनके योगदान से आज के युवा पीढ़ी को परिचित कराया जा सकेगा. उइके ने कहा कि जनजातीय समुदाय के हजारों नायकों के नेतृत्व में इस समुदाय के महिलाओं, पुरूषों और बच्चों ने बड़ी संख्या में ब्रिटिश शासन के अत्याचार के विरूद्ध निरंतर संघर्ष करते हुए अ...
NMDC के नगरनार इस्पात संयंत्र की बिक्री के लिए सरकार मार्च तक आमंत्रित कर सकती है आरंभिक निविदा
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

NMDC के नगरनार इस्पात संयंत्र की बिक्री के लिए सरकार मार्च तक आमंत्रित कर सकती है आरंभिक निविदा

नयी दिल्ली. केंद्र सरकार एनएमडीसी के नगरनार इस्पात संयंत्र की रणनीतिक बिक्री के लिए मार्च महीने के अंत तक आरंभिक निविदाएं आमंत्रित कर सकती है. एक अधिकारी ने बताया कि एनएमडीसी के छत्तीसगढ़ स्थित इस निर्माणाधीन संयंत्र में परिचालन इसी महीने शुरू होने की उम्मीद है. उन्होंने बताया कि इसे अलग करने की प्रकिया (डीमर्जर) पूरा हो जाने के बाद निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपक) नगरनार इस्पात संयंत्र के निजीकरण की प्रक्रिया शुरू करेगा. उन्होंने बताया, ‘‘एनएमडीसी और नगरनार इस्पात संयंत्र को अलग करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है और यह संयंत्र इस महीने परिचालन शुरू कर सकता है. इसके बाद हम मर्चेंट बैंकरों की नियुक्ति करेंगे और आगे बढ़ेंगे.’’ अधिकारी ने बताया कि बोलीदाताओं से मार्च महीने के अंत तक शुरुआती बोली या रुचि पत्र बुलवाए जा सकते हैं. बिक्री की प्रक्रिया अगले वित्त वर्ष की शुरुआत में ह...
छत्तीसगढ़ में डेरा डाले झारखंड के विधायक रांची पहुंचे
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ में डेरा डाले झारखंड के विधायक रांची पहुंचे

रांची. छत्तीसगढ़ में डेरा डाले झारखंड के सत्तारूढ़ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के कम से कम 30 विधायक विधानसभा के विशेष सत्र में भाग लेने के लिए रविवार को एक विशेष विमान से रांची पहुंचे. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. झारखंड के ये विधायक 30 अगस्त से रायपुर के पास एक रिजॉर्ट में डेरा डाले हुए थे. हवाई अड्डे के एक अधिकारी ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘ विधायकों को लेकर आया विशेष विमान रांची में उतरा है.’’ कथित तौर पर सरकार गिराने के लिए विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा उसके विधायकों की खरीद-फरोख्त की आशंका के कारण मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नेतृत्व वाले गठबंधन के विधायकों को नवा रायपुर के एक आलीशान रिजॉर्ट ले जाया गया था. अधिकारी ने बताया कि कांग्रेस और झामुमो के नेताओं के अलावा 30 विधायकों को लेकर विशेष विमान ने रायपुर के स्वामी विवेकानंद हव...
छत्तीसगढ़ का इतिहास, आदिवासी जीवन दिखाती है खैरागढ़ कला वीथिका
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

छत्तीसगढ़ का इतिहास, आदिवासी जीवन दिखाती है खैरागढ़ कला वीथिका

रायपुर. छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी कला वीथिका राजनांदगांव जिले के खैरागढ़ नगर में बनाई गई है जो राज्य के समृद्ध इतिहास, परंपराओं और आदिवासी जीवन को दर्शाती है. यह जानकारी एक सरकारी अधिकारी ने रविवार को दी. अधिकारी ने कहा कि वीथिका में राजकीय इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय (आईकेएसवी) के छात्रों द्वारा तैयार की गई विभिन्न पेंंिटग, हस्तशिल्प और मूर्तियां प्रर्दिशत की गई हैं. यह वीथिका राज्य की राजधानी रायपुर से 80 किलोमीटर दूर खैरागढ़ में विश्वविद्यालय परिसर में स्थापित की गई है. छात्र मुस्कान परख द्वारा बांस की चटाई पर मिट्टी का उपयोग करके तैयार की गई ऐसी ही एक कलाकृति बस्तर की घोटुल संस्कृति को दर्शाती है जिसमें आदिवासी युवाओं को एक साथ बैठकर उपहारों का आदान-प्रदान करते दिखाया गया है. घोटुल बस्तर गांवों में ऐसे स्थान होते हैं जहां युवा आदिवासी पुरुष और महिलाएं इकट्ठा होते हैं, बातचीत करते हैं, गा...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरूजनों को शिक्षक दिवस पर दी शुभकामनाएं
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरूजनों को शिक्षक दिवस पर दी शुभकामनाएं

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के अवसर पर सभी शिक्षकों और प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी है. मुख्यमंत्री ने अपने बधाई संदेश में पूर्व राष्ट्रपति भारतरत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का स्मरण करते हुए कहा कि डॉ. राधाकृष्णन एक विद्वान, चिंतक और प्राध्यापक भी रहे हैं, उनका जन्मदिन शिक्षक दिवस के रूप में मनाकर हम सभी गौरवान्वित महसूस करते हैं. डॉ. राधाकृष्णन ने उच्च नैतिक मूल्यों को अपने जीवन उतारा और अपने छात्रों को भी प्रेरित किया. वे कठिन विषय को भी अपनी शैली से सरल, रोचक और प्रिय बना देते थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि देश और समाज के लिए अच्छा नागरिक तैयार करने में शिक्षक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. अपने गुणों से वे समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने की क्षमता रखते हैं. उन्होंने उम्मीद जताई कि देश-प्रदेश का उज्जवल भविष्य गढ़ने की दिशा में सभी शिक्षक महत्वपूर्ण भ...