एनएसएस के 5 हजार विद्यार्थी करेंगे राज्य के  वरिष्ठ नागरिकों की सेवा, मोबाइल एप का किया जा रहा है निर्माण

एनएसएस के 5 हजार विद्यार्थी करेंगे राज्य के
 वरिष्ठ नागरिकों की सेवा
पं. रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी से शुरू होगी छत्तीसगढ़ टाइम बैंक योजना,
मोबाइल एप का किया जा रहा है निर्माण

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य  के वरिष्ठ नागरिकों की सेवा  के लिए अब राष्ट्रीय सेवा योजना के विद्यार्थी उपलब्ध रहेंगे। समय पर अस्पताल ले जाने  से लेकर अन्य किसी भी प्रकार की समस्या के समाधान के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना के सेवक सदैव तैयार रहेंगे। इसके लिए छत्तीसगढ़ टाइम बैंक एप का भी निर्माण किया  गया  है। इस एप के माध्यम से कोई भी बुजुर्ग किसी भी तरह की समस्या आने पर सम्पर्क कर सकते है जिससे उन्हें तत्काल सहायता प्राप्त  हो सकेगी।
यह जानकारी राष्ट्रीय सेवा योजना के रायपुर जिले के जिला संगठक एवं पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के समाजशास्त्र अध्ययनशाला के विभागाध्यक्ष एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. एल.एस. गजपाल ने दी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय सेवा योजना, छत्तीसगढ़ के सभी समन्वयकों व जिला संगठक व अन्य पदाधिकारियों की वर्चुअल बैठक का आयोजन उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ राज्य के राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ के राज्य एन.एस.एस. अधिकारी डॉ. समरेन्द्र सिंह के मार्गदर्शन में शनिवार, 26 जून 2021 को किया गया। इस बैठक में राज्य के वरिष्ठ नागरिकों की सेवा के लिए छत्तीसगढ़ टाइम  बैंक योजना का क्रियान्वयन करने विभिन्न मुद्दों पर  चर्चा की  गई। इस योजना के सफल संचालन  के लिए एप का भी निर्माण किया  गया  जिसके  माध्यम  से राज्य का कोई भी वरिष्ठ नागरिक किसी भी तरह  की परेशानी आने पर संपर्क कर सकता है।
तैयार किये गय़े एप में आवश्यक संशोधन किया जा रहा है। राष्ट्रीय सेवा योजना के सेवक सदैव सहयोग के लिए तैयार मिलेंगे। इस योजना के अंतर्गत वरिष्ठ नागिरकों की शारीरिक समस्या, अकेलेपन, मानसिक समस्या सहित अन्य किसी  तरह की  परेशानी होने पर सहयोग प्रदान किया  जाएगा। श्री गजपाल ने बताया कि राष्ट्रीय सेवा  योजना छत्तीसगढ़ द्वारा यह योजना 5000 स्वयं  सेवकों से प्रारंभ की  जाएगी जिसमें पं. रविशंकर  शुक्ल विश्वविद्यालय के 900. हेमचंद यादव यूनिवर्सिटी दुर्ग के 800, अटल बिहारी वाजपेयी यूूनिवर्सिटी बिलासपुर के 800, रायगढ़ यूनिवर्सटी के 400, सरगुजा यूनिवर्सिटी अंबिकापुर के 750, बस्तर यूनिवर्सिटी जगदलपुर के 750, स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय, भिलाई के 300, इंदिरा गांधी  कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर के 300 स्वयंसेवक विद्यार्थी अपनी सेवा  प्रदान करेंगे।
राष्ट्रीय स्वयं सेवा, छत्तीसगढ़ की इस वर्चुअल बैठक में राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ के राज्य एन.एस.एस. अधिकारी डॉ. समरेन्द्र सिंह, राष्ट्रीय सेवा योजना छत्तीसगढ़ के कार्यक्रम समन्वयक डॉ. आर.एस. ठाकुर, पं. रविशंकर  शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर की राष्ट्रीय सेवा योजना की कार्यक्रम समन्वयक डॉ. नीता  बाजपेयी, रायपुर  जिला संगठक डॉ. एल.एस. गजपाल सहित सभी जिलों के संगठक व समन्वयक उपस्थित  थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *