Tuesday, July 16

आपदा प्रबंधन के साथ-साथ हेल्थ व हाइजीन के बारे में 600 कैडेट ने लिया प्रशिक्षण

दुर्ग। छत्तीसगढ़ बटालियन एनसीसी के वार्षिक प्रशिक्षण शिविर के प्रथम सत्र में अतिथि व्याख्यान के तहत सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी शबा कुरैशी बोरई व प्रिया कश्यप चंगोरी ने एनसीसी कैडेट को हेल्थ व हाईजिन के बारे में विस्तार से बताया। द्वय अतिथियों ने सबसे पहले हाथ की सफाई के साथ-साथ हमारे रसोई, स्नानागार, टॉयलेट व भोजन कक्ष की स्वच्छता का महत्व बताया और छात्राओं से मानसिक तनाव, स्वास्थ्य व मासिक धर्म में होने वाली समस्याओं पर खुलकर चर्चा की। साथ ही साथ सिरदर्द व माइग्रेन के कारण प्रकार एवं उनके रोकथाम पर चर्चा की। कैडेटों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए व एनीमिया से बचने के लिए संतुलित आहार, फल, हरी सब्जियों का भरपूर उपयोग, पर्याप्त मात्रा में पानी के सेवन पर जोर दिया और जंकफूड से दूर रहते हुए प्रतिदिन योग व प्राणायाम करने कहा। शिविर के द्वितीय सत्र में जिला आपदा प्रबंधन की टीम ने आपदा के प्रकार, आग बुझाने के उपाय, आग बुझाते समय रखी जाने वाली सावधानियां के बारे में बताते हुए प्रत्येक स्थिति का डेमो भी कैडेटों को दिखाया। आपदा प्रबंधन में एनसीसी कैडेट किस प्रकार अपना सहयोग प्रदान कर सकते हैं इसकी विस्तृत जानकारी प्रदान की व कैडेटों के प्रश्नों का समाधान किया।

कैंप कमांडेड करनाल मकसूद अली खान ने विषय विशेषज्ञों का स्मृति चिन्ह भेंट कर धन्यवाद दिया। इस अवसर पर सूबेदार मेजर भूपति थापा, कैंप एडुजेंट कैप्टन कृष्ण मंडल, क्वार्टर मास्टर लेफ्टिनेंट हरीश कुमार कश्यप व कॉलेज/स्कूल के एनसीसी अधिकारी श्री रोमन चंद जागड़े, ममता धु्रव, श्री प्रदीप शुक्ला, अल्का मेढे, अनुराधा , फुलेश्वरी, अंजुल राय, सरस्वती बंजारे व पुजा अवस्थी तेनु सही स्टाफ वह 600 कैडेट उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *