संभाग के सभी उप एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में होगा उन्नयन

राज्य कार्यालय के संयुक्त संचालक ने ली बैठक, कई स्वास्थ्य केंद्रों का किया निरीक्षण
अम्बिकापुर (IMNB). स्वास्थ्य मंत्री श्री टीएस सिंहदेव के निर्देशानुसार राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के राज्य कार्यालय से संयुक्त संचालक डॉक्टर पामभोई एवं राज्य कार्यक्रम प्रबंधक शहरी डॉ प्रदीप टंडन ने विगत दिनों यहां एक स्थानीय होटल में संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक ली। बैठक में सरगुजा संभाग के संयुक्त संचालक डॉ पीएस सिसोदिया सहित संभाग के जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, विकास खंड चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, शहरी कार्यक्रम प्रबंधक एवं विकासखंड कार्यक्रम प्रबंधक उपस्थित थे। डॉ पामभोई ने कहा कि सरगुजा संभाग के समस्त उप एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर में उन्नयन कर स्वास्थ्य सुविधाओं में इजाफा किया जाना है। इसको ध्यान में रखते हुए अभी से तैयारी शुरू कर दें। उन्होंने आगे यह भी निर्देश दिया कि आगामी दिवस में होने वाले राष्ट्रीय गुणवत्ता सर्टिफिकेशन के लिए भरपूर तैयारी करें एवं राष्ट्रीय स्तर पर अपना सर्टिफिकेशन प्राप्त करें।
बैठक के पश्चात डॉ पामभोई ने अधिकारियो में साथ शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवापारा, नवागढ़ एवं भगवानपुर का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने  मरीजों को समस्त सुविधाएं निशुल्क उपलब्ध कराने की निर्देश दिए एवं ओपीडी का समय  सुबह 10ः00 से 2ः00 एवं शाम 05ः00 से रात्रि 08ः00 तक करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित रहने वाले कर्मचारियों पर तत्काल कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने दवा की उपलब्धता एवं पैथोलॉजी जांच की भी जानकारी ली। मातृत्व एवं शिशु से संबंधित समस्त स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं की समीक्षा की। इसके पश्चात उन्होंने अंबिकापुर विकासखंड के ग्राम लब्जी सब हेल्थ सेंटर एवं ग्राम हर्राटिकरा का भी निरीक्षण कर उचित दिशा निर्देश दिए।
शहरी स्वास्थ्य कार्यक्रम के प्रभारी डॉक्टर अमीन फिरदौसी ने बताया की आगामी दिवस में स्वास्थ्य मंत्री श्री टीएस सिंहदेव के पहल पर बहुत जल्द शहरी क्षेत्र अंबिकापुर में 08 हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर स्थापित होंगे जिससे शहरी क्षेत्र में स्वास्थ्य केंद्रों की संख्या 3 से बढ़कर 11 हो जाएगी। शहरी क्षेत्र अंबिकापुर के लिए यह सौगात बहुत महत्वपूर्ण होगी क्योंकि जैसे-जैसे आबादी बढ़ रही है मलिन बस्ती में रहने वालों की संख्या दिनों-दिन बढ़ रही है।
शहरी स्वास्थ्य केंद्र नवापारा में शुरू की गई कीमोथेरेपी एवं दर्द निवारक क्लीनिक की सुविधा प्रदेश के लिए एक रोल मॉडल बन चुका है जिसकी प्रशंसा आगंतुक अधिकारी डॉक्टर पामभोई ने भी किया। उन्होंने इस तरह की सुविधा रायपुर में भी उपलब्ध कराने की बात कही एवं उन्होंने अंबिकापुर की टीम को आमंत्रण दिया कि वह रायपुर के शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भी इस तरह की सुविधाएं शुरू करने में मदद करें। उन्होंने बताया कि शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में इस तरह की सुविधा उपलब्ध कराने वाला नवापारा प्रदेश का पहला स्वास्थ्य केंद्र है।
इस दौरान सरगुजा संभाग के संयुक्त संचालक डॉ पीएस सिसोदिया, डीपीएम डॉ पुष्पेन्द्र राम, डॉ अमीन फिरदौसी, डॉ ओम प्रकाश, डॉ रितेश, डॉ संवेदना, डॉ शीला नेताम आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *