अमित शाह मुस्लिमों की आड़ लेकर असम में हिन्दुओं को डरा रहे हैं – विकास उपाध्याय

असम (लखीमपुर)(IMNB NEWS AGENCY)  कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं असम प्रदेश के प्रभारी विकास उपाध्याय आज असम में चुनाव तिथि की घोषणा के बाद दौरा और तेज किया। कल जोरहाट सहित विभिन्न विधानसभा क्षेत्र में हजारों की संख्या में उपस्थित कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक लेने के पश्चता् आज लखीमपुर में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा कांग्रेस द्वारा उठाए जा रहे जनहित के मुद्दों को नकल कर रही है। उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह पर सीधा हमला बोलते हुए कहा, अमित शाह असम में चुनाव हारने के डर से मुस्लिमों के आड़ में भड़काऊ भाषण देकर हिन्दुओं को डरा रहे हैं। विकास उपाध्याय ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए आव्हान किया है कि असम में कांग्रेस की सत्ता में वापसी ही पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगई को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। विकास ने इस बात पर जोर दिया कि असम के चुनाव में सीएए कांग्रेस का मुख्य मुद्दा होगा, जिसे असम के लोगों से मुक्त कराना है।

असम प्रभारी विकास उपाध्याय लगातार चुनावी सभाओं में हिस्सा लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश भरने का काम कर रहे हैं। पिछले कई दिनों से वे अपर असम के विधानसभाओं में सघन दौरा कर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा आयोजित शिविर एवं सभाओं में कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगई को सच्ची श्रद्धांजलि तभी मिलेगी, जब असम में इस बार कांग्रेस की सत्ता में वापसी होगी। उन्होंने आरोप लगाया कि असम में भारतीय जनता पार्टी ने अपने पाँच साल के कार्यकाल में कुछ नहीं किया, बल्कि असम में कांग्रेस द्वारा उठाए जा रहे जनहित के मुद्दों को भाजपा नकल कर जनता की हितैशी बन रही है। उन्होंने कहा, भाजपा चाय बागान में काम करने वाले मजदूरों की दिहाड़ी बढ़ाए जाने पिछली घोषणा पत्र में शामिल किया था, परन्तु आज आचार संहिता के लागू हो जाने के बाद भी इन्हें 167 रूपये प्रतिदिन दिहाड़ी में ही काम करना पड़ रहा है और जब कांग्रेस इन मजदूरों के हित की बात कर इसे 365 रूपये प्रतिदिन की घोषणा कर चुकी है। ऐसे में भाजपा इसे नकल कर फिर से एक बार असम की जनता के साथ झूठ बोल कर 351 रूपये देने की बात कर रही है और ये सब असम की जनता देख समझ रही है।

विकास उपाध्याय आज लखीमपुर में हजारों की संख्या में उपस्थित कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ जनसंपर्क कर कांग्रेस के लोगों को संबोधित करते हुए आरोप लगाया कि इस बार के चुनाव में भाजपा इस कदर डरी हुई है कि अमित शाह मुस्लिमों के आड़ में भड़काऊ भाषण देकर हिन्दुओं को डराने का काम कर रहे हैं। उन्होंने प्रश्न किया कि गृह मंत्री अमित शाह को किसने रोका था जो असम में घूसपैठियों की पहचान पिछले 05 साल में नहीं कर सके। आज 05 साल बाद घूसपैठियों को लेकर कांग्रेस पर आरोप लगाने वाले अमित शाह को बताना चाहिए कि उन्होंने इस अंतराल में इसको लेकर क्या किया? विकास उपाध्याय ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा कही जा रही बातों का भी आड़े हांथों लेते हुए कहा, मोदी जिस विकास को लेकर चुनाव के ठीक पहले करोड़ों रूपये की आधारशीला असम में रख रहे हैं, तो क्या पाँच साल तक वे पुर्वोत्तर राज्यों सहित असम की अनदेखी कर रहे थे? विकास उपाध्याय ने कहा, भाजपा केन्द्र में 07 साल तक पूर्ण बहूमत के साथ राज करने के बाद भी असम की अनदेखी करती रही। उन्होंने तंज कसते हुए कहा, मोदी की सरकार सब का साथ सबका विकास नहीं बल्कि सबका वोट पर विकास सिर्फ भाजपा का कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *