किसान विरोधी बिल एन.डी.ए. के पतन का मार्ग प्रशस्त करेंगे,जकांछ किसानों के साथ – रिजवी

रायपुर 26/09/2020। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख, मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व उपमहापौर तथा वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने भाजपा सरकार द्वारा संसद में पारित तीनों कृषि विधेयको का विरोध भारत बंद के दिन देश भर में मुखर हुआ तथा कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक किसानों ने ऐतिहासिक भारत बंद की मिसाल पेश की है तथा केन्द्र सरकार के समक्ष इन किसान विरोधी बिलों को वापस लेने की हुंकार भर दी है जो आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा के पतन का मुख्य कारण बनेगा। किसानों के धैर्य का बांध टूट चुका है। भाजपा की पराजय इन बिलों ने सुनिश्चित कर दी है। अलोकतांत्रिक एवं उत्तेजक किसान विरोधी बिल बिहार चुनाव में भाजपा के ताबूत में कील सिद्ध होगी। बिहार सहित देश के करोड़ों बेरोजगारों की सक्रिय भूमिका इस चुनाव में देखने को मिलेगा। इस अवसर का सही लाभ तभी मिलेगा जब सेक्यूलर सोच में विश्वास रखने वाले दल एक मंच पर आकर चुनाव लड़े। यह चुनाव सन् 2024 के लोकसभा चुनाव को भी प्रभावित करने वाला सिद्ध होगा। किसान विरोधी बिलों के विरोध में जकांछ किसानों के साथ शाना ब शाना खड़ी है और आगे भी किसानों के हर संघर्ष में जकांछ अपनी सक्रिय भूमिका निभाने का वचन देती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *