सारंगढ़ परिक्षेत्र में आज हाथी के हमले से हुए मृत व्यक्ति के परिजन को 25 हजार रूपए की सहायता

सारंगढ़ वन परिक्षेत्र में विचरण कर रहे हाथियों से सर्तक रहने
विभाग करा रहा मुनादी

रायपुर, 28 फरवरी 2021 (IMNB NEWS AGENCY)  सारंगढ़ क्षेत्र के ग्राम गुढ़यारी में आज मादा हाथी के हमले से मृत श्री मनोहर पटेल के परिजनों को राज्य शासन के प्रावधान के अनुसार वन विभाग द्वारा 25 हजार रूपए की तत्कालिक सहायता राशि दी गई हैं। वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार वन विभाग के अधिकारी सारंगढ़ परिक्षेत्र में विचरण कर रहे मादा हाथी की स्थिति पर निगरानी बनाए हुए है और उससे बिछड़े बच्चा हाथी को मिलाने के लिए प्रयासरत् है। मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के निर्देश पर सारंगढ़ वन परिक्षेत्र के गांवों में मादा हाथी के विचरण को देखते हुए वन विभाग द्वारा मुनादी करा दी गई है और ग्रामीणों को सर्तक रहने की समझाईश भी दी जा रही हैं।

वनमंडलाधिकारी रायगढ़ डाॅ. प्रणय मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि आज 28 फरवरी को सुबह 9 बजे सारंगढ़ परिक्षेत्र के अंतर्गत ग्राम गुढ़़यारी में 21 वर्षीय श्री मनोहर पटेल पिता श्री रामेश्वर पटेल को जंगली हाथी द्वारा मारे जाने की सूचना मिली। इस सूचना के बाद पूरे अमले को अलर्ट कर दिया गया है और विभागीय अधिकारी एवं कर्मचारियों की टीम हाथी के विचरण की स्थिति पर लगातार निगरानी बनाए हुए है।

डी.एफ.ओ. श्री मिश्रा ने बताया कि एक मादा हाथी अपने शावक हाथी के साथ 27 फरवरी की रात में जांजगीर-चांपा वनमंडल की ओर से विचरण करते हुए 28 फरवरी को सारंगढ़ परिक्षेत्र में पहुंचा। इसी दौरान मादा हाथी का बच्चा हाथी उसे बिछड़ गया। मादा हाथी को देखकर गुढ़यारी निवासी मनोहर पटेल उसके समीप पहुंचकर सेल्फी लेने लगा। इसी बीच मादा हाथी ने मनोहर पटेल पर हमला कर दिया, जिससे उसकी मृत्यु हो गई। मृतक के परिजनों को तत्कालिक सहायता के रूप में 25 हजार रूपए की राशि दे दी गई है। उन्होंने बताया कि वन विभाग का मैदानी अमला इलाके में लगातार गश्त कर रहा है और हाथी के पास न जाने और किसी भी तरह की छेड़छाड़ कर उकसाने की कार्रवाई न करने की अपील कर रहा  है। यहां यह उल्लेखनीय है कि सारंगढ़ परिक्षेत्र के ही ग्राम मल्दा में 26 फरवरी को हाथियों के दल द्वारा एक ग्रामीण महिला श्रीमती तीजमती भारती पर हमला कर मार डाला गया था। उक्त महिला मृतक के परिजनों को भी तत्कालिक सहायता के रूप में 25 हजार रूपए की राशि प्रदान कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *