महिला आरक्षण बिल के पक्ष में नहीं है भाजपा , महिला सशक्तिकरण का गुणगान मात्र दिखावा : रिजवी*

रायपुर। । जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख, मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व उपमहापौर तथा वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने भाजपा द्वारा महिला सुरक्षा, सशक्तिकरण और जागरूकता के प्रति बयानबाजी को अन्य जुमलों के समान ही प्रतिपादित करते हुए कहा है कि भाजपा द्वारा सबका साथ, सबका विकास एवं विश्वास मात्र दिखावा है। भाजपा का ध्यान एवं मंशा सी.ए.ए., एन.आर.सी. एवं किसान विरोधी बिल जैसे उत्तेजित कानून बनाने की ओर ही है जिससे वर्ग विशेष के प्रति विरोधी तेवर स्पष्ट नजर आते हैं। इन बिलों से देश के सौहार्द्रपूर्ण वातावरण को खतरा उत्पन्न हो गया है। देशहित में इन सभी हिटलरी बिलों को वापस लिया जाना चाहिए।

          रिजवी ने कहा है कि भाजपा द्वारा महिलाओं के संरक्षण एवं हित में कसीदे पढ़े जाने को मृगतृष्णा बताया है। यदि भाजपा महिलाओं के सशक्तिकरण की पक्षधर है तो बजट सत्र में ही महिला आरक्षण बिल प्रस्तत करने का साहस जुटाए। भाजपा एवं संघ पर लग रहे महिला विरोधी आरोप से बचा जा सकता है। आर.एस.एस. में न तो महिला विंग है और न ही पदाधिकारी जो संघ की मानसिकता को उजागर करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *