महिला अत्याचार व दुष्कर्म की वारदातों के ख़िलाफ़ भाजपा के अजजा व महिला मोर्चा ने धरना दिया

 

*प्रदेश में महिलाओं के साथ अत्याचार और दुष्कर्म के खिलाफ महिला मोर्चा, अनुसूचित जनजाति का धरना*

*भूपेश की सरकार जब से आयी है। छत्तीसगढ़ को कांग्रेसियो की नज़र लग गयी है – बृजमोहन*

*ला, दे और ले जा मतलब पैसा ला कर दे और पद लेजा की सरकार से जनता त्रस्त है – मूणत*

*यहाँ के आदिवासी भोले है। पर जब उनके खिलाफ अन्याय होता है तो वे भाले बन चुभते है – केदार कश्यप*


*रायपुर।* भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जनजाति मोर्चा और महिला मोर्चा के संयुक्त तत्वावधान में प्रदेश में महिलाओं के साथ लगातार घट रहीं अत्याचार और दुष्कर्म की वारदातों के खिलाफ धरना दिया गया। बाद में अजजा व महिला मोर्चा ने राज्यपाल अुसुइया उईके को ज्ञापन सौंपकर इन मामलों की निष्पक्ष जाँच और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की।
इस मौके पर धरना स्थल पर अपने संबोधन में पूर्व मंत्री व विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि भूपेश-सरकार जब से प्रदेश की सत्ता में आई है, छत्तीसगढ़ को किसी की नज़र लग गयी है। बलात्कारों का सिलसिला चल पड़ा है। महिला सशक्तिकरण, महिला स्वाभिमान और अस्मत की सुरक्षा के तमाम सरकारी दावे दम तोड़ चुके हैं। श्री अग्रवाल ने कहा कि जब शासक कमजोर होता है तो व्यवस्थाएं अनियंत्रित हो जाती है। पुलिस की इतनी ताकत हो जाती है कि एफआईआर के लिए घूस मांगते है। इन अन्याय के ख़िलाफ़ भाजपा की बहनों, भाइयों को अब कोई पुलिस, जेल का भय नहीं रोक सकता।
पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने भूपेश-सरकार को चूड़ी और चुन्नी की ग़ुनहगार सरकार बताया और कहा कि ‘ला, दे, और ले जा’ मतलब पैसा ला के दे, और पद लेकर जा ही इस सरकार की परिभाषा रह गई है। ऐसी सरकार से जनता को जगाना है और दुराचार की व्यवस्था का अंत करना है। भाजपा अजजा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विकास मरकाम ने कहा कि ये सरकार छत्तीसगढ़ के आदिवासी वर्ग के सम्मान की कीमत वसूलती है। एक थानेदार पीड़ित परिवार से 15 हज़ार रुपए मांगता है! इस सरकार को बताना पड़ेगा कि इसमें किस-किसकी कितनी हिस्सेदारी है? पूर्व मंत्री केदार कश्यप ने कहा कि यहाँ के आदिवासी भोले हैं परंतु अगर उनके सम्मान से खिलवाड़ नहीं रुका तो वे भाला बनकर सरकार के खिलाफ तन कर लड़ेंगे। कार्यक्रम को महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम के अंत में रायपुर शहर ज़िला भाजपा अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी ने आभार माना। इस दौरान प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष मोती साहू, पूर्व विधायक नंदे साहू, सच्चिदानंद उपासने, भाजपा प्रदेश प्रवक्ता अनुराग सिंहदेव, महिला मोर्चा की मीनल चौबे, लक्ष्मी वर्मा, विभा अवस्थी, शशि अग्रवाल, पद्मा चंद्राकर,सुभाष शर्मा, समेत काफी संख्या में पदाधिकारी, कार्यकर्ता व जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *