Friday, April 19

धर्म कर्म

6 अप्रैल से खारुन के तट पर विराट ज्योतिष सम्मेलन श्री महाकाल धाम मे देशभर के विख्यात ज्योतिषियों, वास्तु शास्त्रियों, आचार्य, महामंडलेश्वर की उपस्थिति में होगा भव्य आयोजन
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, दुर्ग, देश-विदेश, धर्म कर्म, रायपुर

6 अप्रैल से खारुन के तट पर विराट ज्योतिष सम्मेलन श्री महाकाल धाम मे देशभर के विख्यात ज्योतिषियों, वास्तु शास्त्रियों, आचार्य, महामंडलेश्वर की उपस्थिति में होगा भव्य आयोजन

विराट ज्योतिष सम्मेलन श्री महाकाल धाम में   6 अप्रैल 2024 को देशभर के विख्यात ज्योतिषियों, वास्तु शास्त्रियों, आचार्य, महामंडलेश्वर की उपस्थिति में होगा भव्य आयोजन कार्यक्रम स्थल – श्री महाकाल धाम पुराना बांध के पास ग्राम – अमलेश्वर , तहसील – पाटन, जिला – दुर्ग (छत्तीसगढ़) कार्यक्रम की तारीख़ – 6 अप्रैल 2024 दिन – शनिवार कार्यक्रम का समय – सुबह 10 से रात 8 बजे तक विद्वान आचार्यों द्वारा ज्योतिष,वास्तु,हस्तरेखा,अंकशास्त्र ,टैरो,डाउजिंग आदि विद्वानों में विशेष व्याख्यात होंगे। विद्वानों द्वारा निजी परामर्श भी दिये जायेंगे। विद्वानों आचार्यों का श्री महाकाल द्वारा सम्मान कार्यक्रम भी जारी रहेगा। श्री महाकाल के गर्भगृह में सभी विद्वानों एवं अतिथियों का रूद्राभिशेक, निःशुल्क होगा। सभी अतिथियों के भोजन प्रसादी के लिए निरंतर भंडारा जारी रहेगा। रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधा...
होलिका दहन 24 मार्च को भद्रा के उपरांत रात 11.15 बजे होलिका दहन का श्रेष्ठ मुहूर्त स्वामी राजेश्वरा नंद महाराज
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, धर्म कर्म

होलिका दहन 24 मार्च को भद्रा के उपरांत रात 11.15 बजे होलिका दहन का श्रेष्ठ मुहूर्त स्वामी राजेश्वरा नंद महाराज

होलिका दहन 24 मार्च को भद्रा के उपरांत रात 11.15 बजे होलिका दहन का श्रेष्ठ मुहूर्त सवाई माधोपुर-22 मार्च डॉ स्वामी राजेश्वरानंद श्री सुरेश्वर महादेव पीठ ने बताया कि शास्त्रों के नियम के अनुसार होलिका दहन भद्रा रहित प्रदोष व्यापिनी फाल्गुन पूर्णिमा में किया जाता है। इस वर्ष प्रदोष व्यापिनी फाल्गुन पूर्णिमा 24 मार्च रविवार को है। लेकिन इसी दिन गोधूली प्रदोष वेला में भद्रा है। अत:होलिका दहन 24 मार्च को भद्रा उपरांत के बाद ही किया जाना शास्त्र सम्मत है। डॉ स्वामी राजेश्वरानंद जी ने बताया कि शास्त्रों के नियम के अनुसार होलिका दहन भद्रा रहित प्रदोष व्यापिनी फाल्गुन पूर्णिमा में किया जाता है। इस वर्ष 24 मार्च रविवार को प्रदोष व्यापिनी फाल्गुन पूर्णिमा को होलिका दहन रात्रि में भद्रा समाप्ति के बाद 11.15 बजे किया जाएगा।क्योंकि इसी दिन प्रात:9.56 बजे से रात्रि 11.14 बजे तक भद्रा रहने से गोधूली प्र...
एकात्म मानव-दर्शन के अग्रदूत थे आदि शंकराचार्य : प्रो. हरीश अरोड़ा
खास खबर, देश-विदेश, धर्म कर्म

एकात्म मानव-दर्शन के अग्रदूत थे आदि शंकराचार्य : प्रो. हरीश अरोड़ा

  -0 इंदौर क्रिश्चियन कॉलेज में हुई व्याख्यानमाला इंदौर। ‘एकात्म दर्शन भारतीय ज्ञान परंपरा का वह सूत्र है जो विश्व में भारत के विराट बोध को लक्षित करता है। इस परंपरा का उत्कर्ष हमें जगद्गुरु आदि शंकराचार्य के विचारों में मिलता है। उनके विचार एकात्म दर्शन और मानवीयता की महती पूंजी हैं। यदि कहा जाए कि आदि शंकराचार्य एकात्म मानव-दर्शन के अग्रदूत थे तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी।’ ये विचार इंदौर क्रिश्चियन कॉलेज में भारतीय भाषा समिति, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार के सहयोग से आयोजित आदि शंकराचार्य व्याख्यानमाला के अंतर्गत “जगद्गुरू श्री शंकराचार्य एवं भारत की एकात्मकता” विषय पर आयोजित व्याख्यानमाला के अंतर्गत वरिष्ठ साहित्यकार और दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हरीश अरोड़ा ने कहे। उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी राष्ट्र की अस्मिता के प्रतिमानों में उसकी सांस्कृतिक-आध्यात्मिक विरासत का महत...
राजिम कुंभ कल्प,19 आचार्यों ने कुलेश्वर महादेव में की आरती प्रदेश वासियों के लिए मांगी खुशहाली
खास खबर, गरियाबंद, छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, धर्म कर्म, रायपुर

राजिम कुंभ कल्प,19 आचार्यों ने कुलेश्वर महादेव में की आरती प्रदेश वासियों के लिए मांगी खुशहाली

आज दिनांक 5 मार्च 2024 राजिम कल्प कुंभ में श्री सुरेश्वर महादेव पीठ रायपुर छत्तीसगढ़ के कैंप क्रमांक 110 111 में भगवान राजीव लोचन जी एवं कुलेश्वर महादेव की पूजा अर्चना के पश्चात हवन किया गया जिसमें प्रमुख रूप से स्वामी राजेश्वरानंद जी के नेतृत्व में सभी भक्तों ने हवन इत्यादि किया और श्री राजेश श्रीवास्तव जी ने भी और चक्र कुंडली देखना प्रारंभ किया स्वामी जी की कुटिया में ब्रह्म भोज पूजा अर्चन हवन इत्यादि से भक्तों का कष्ट निवारण किया जाता है स्वामी जी के साथ में आचार्य रुपेश जी भागवत आचार्य एवं19 आचार्य की टीम श्री कुलेश्वर महादेव से प्रार्थना करके छत्तीसगढ़ के भक्तों की खुशहाली की कामना करती है सभी भक्तों का कष्ट निवारण हेतु और कुंडली मंत्र तंत्र इत्यादि किए जाते हैं स्वामी राजेश्वरानंद जी श्री सुरेश्वर महादेव पीठ रायपुर श्री गिरीश बिस्सा जी, सुधीर दुबे जी, स्वामी अखिलेसानन्द जी, स्वा...
विहिप कार्यकर्ता गोपाल गिरी पर गोली चलाने की विश्व गुरु शंकराचार्य दशनाम गोस्वामी समाज ने की निंदा कड़ी करवाई की मांग
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धर्म कर्म, रायगढ़, रायपुर

विहिप कार्यकर्ता गोपाल गिरी पर गोली चलाने की विश्व गुरु शंकराचार्य दशनाम गोस्वामी समाज ने की निंदा कड़ी करवाई की मांग

रायगढ़ । विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता पर तीन राउंड गोली चलाने वाला आम आदमी पार्टी का नेता गिरफ्तार, दिल्ली भागने से पहले एसपी के निर्देश पर गठित विशेष टीम ने पकड़ा। रायगढ़ जिले के खरसिया नगर पंचायत अंतर्गत संजय नगर में आम आदमी पार्टी के नेता व विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी अमर अग्रवाल ने एक युवक पर एयरगन से तीन गोलियां चला दी थी। गोलियां चलाने के बाद आरोपित मौके से फरार हो गया। दिनदहाड़े हुए गोली कांड से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। बताया जा रहा है कि गोलीकांड जमीन विवाद के चलते हुआ। क्षेत्र के पटवारी और आरआई के मौके पर मौजूद होने की बात सामने आई है।   जानकारी के मुताबिक आम आदमी पार्टी के नेता पूर्व विधानसभा प्रत्याशी अमर अग्रवाल का क्षेत्र में जमीन विवाद है। यहां संजय नगर में स्थित जमीन को लेकर अमर अग्रवाल का विवाद गोपाल मिरी से था। बताया जा रहा है कि सरकारी जमीन में निर्माण को लेक...
राजिम कुंभ कल्प संत आवास व्यवस्था का स्वामी राजेश्वरा नंद ने किया अधिकारियों के साथ मिलकर निरीक्षण
खास खबर, गरियाबंद, छत्तीसगढ़ प्रदेश, धर्म कर्म

राजिम कुंभ कल्प संत आवास व्यवस्था का स्वामी राजेश्वरा नंद ने किया अधिकारियों के साथ मिलकर निरीक्षण

केंद्रीय समिति के सदस्य महंत स्वामी राजेश्वरानंद , सुरेश्वर महादेव पीठ , शासन की मेला आयोजन हेतु गठित स्थानीय समिति के सदस्य गिरीश बिस्सा , सुधीर दुबे , इंदर चंद जैन मुकुंद मेश्राम , नागेन्द्र वर्मा , संजय साहू , राजेश गिलहरे , किशोर महानंद , शेर सिंह राजपूत राजू रजक व पं. अश्विन दुबेर ने संत समागम क्षेत्र का व्यापक निरिक्षण किया व संत की आवास व्यवस्था व मंचीय व्यवस्थाओं के स्थान सुनिश्चित किये ।...
कहा था, अयोध्या, मथुरा, विश्वनाथ, तीनों लेंगे एकसाथ! – डॉ प्रवीण तोगडिया
खास खबर, देश-विदेश, धर्म कर्म, लेख-आलेख

कहा था, अयोध्या, मथुरा, विश्वनाथ, तीनों लेंगे एकसाथ! – डॉ प्रवीण तोगडिया

  - डॉ प्रवीण तोगडिया संस्थापक अध्यक्ष - अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद पिछले अनेकों दशकों से हमारी माँग रही है कि भगवान काशी विश्वनाथ जी का भव्य सम्पूर्ण मंदिर बनें और नित्य पूजा अभिषेक हो। वाराणसी जिला न्यायालय ने हिंदु पक्ष की माँग स्वीकारकर हरदिन पूजा की अनुमति दी, शतकों से राह देखते नंदी जी के और मूल भगवान काशी विश्वनाथ जी के बीच की दीवार तोड़ने के, श्री गणेश और पंचदेवों की नित्य पूजा के आदेश दिएँ, हृदय से स्वागत! अब मथुरा में भगवान श्रीकृष्ण को भी सम्पूर्ण भव्य जन्मस्थान मंदिर जल्द मिलेगा यह दृढ़ विश्वास। अब तो हिंदू ही आगे! Call: 9825323406 Dr Pravin Togadia...
एक आहत सभ्यता की सजल आँखें!   0 सबके राम, सबमें राम’ की भावना को स्थापित करने से बनेगा ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ प्रो. संजय द्विवेदी
देश-विदेश, धर्म कर्म, लेख-आलेख

एक आहत सभ्यता की सजल आँखें! 0 सबके राम, सबमें राम’ की भावना को स्थापित करने से बनेगा ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ प्रो. संजय द्विवेदी

https://youtube.com/shorts/KzUK7H0ZRpI?si=rkj1mMtBEglAxXZR अयोध्या में 22 जनवरी,2024 को रामलला विराजे और तमाम आँखें सजल हो उठीं। ये आँसू यूं ही नहीं आए थे। ये भारत की लगातार आहत होती सभ्यता को एक सुनहरे पल में प्रवेश करते देखकर भर आई आँखें थीं। अयोध्या को इस तरह देखना विरल है। यह शहर सालों से सन्नाटे में था, गहरी उदासी और गहरे अवसाद में डूबा, शांत और उत्साहहीन। जैसे इतिहास और समय एक जगह ठहर गया हो और उसने आगे न बढ़ने की ठान रखी हो। दूरस्थ स्थानों से अयोध्या आते लोग भी हनुमान गढ़ी और कनक भवन जैसे स्थानों को देखकर लौट जाते। चौदहकोसी परिक्रमा करते और चले जाते। राम के लिए आए लाखों लोगों में बहुत कम लोग त्रिपाल या टाट में बैठे रामलला के दर्शन करते। लेकिन 22 जनवरी का नजारा अलग था। हर राह राममंदिर की ओर जा रही थी। आँखों में आँसू, चेहरे पर मुस्कान और पैरों में तूफान था। आखिर हमारे राम को उन...
राम के सेवक जवाहर नागदेव की राम…राम…   कितना उचित सचिन पायलट का बयान
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, धर्म कर्म, रायपुर, लेख-आलेख

राम के सेवक जवाहर नागदेव की राम…राम…   कितना उचित सचिन पायलट का बयान

वन्देमातरम्.... राम के सेवक जवाहर नागदेव की राम...राम... कितना उचित सचिन पायलट का बयान लग गयी फिटकरी, खर्ची हींग, नतीजा जीरो, फेल मीटिंग; सभी दलों की अपनी डफली, हर दल हांके अपनी डींग { है न मजेदार:- सुना भाई चंगू’, ‘क्या भाई मंगू?’ ‘कांग्रेस के महासचिव छत्तीसगढ़ प्रभारी सचिन पायलट ने कहा है कि भाजपा चुनावी लाभ के लिये जल्दबाजी में उद्घाटन कर रही है’ ‘तो’? ‘तो ये कि पहले जब मामला कोर्ट में था तो यही  लोग ताना मारते थे कि भाजपा कहती है कि मंदिर वहीं बनाएंगे लेकिन तारीख नहीं बताएंगे... और कब बनेगा मंदिर आदि... , फिर कोर्ट से निर्णय आ गया, काम चालू हो गया और अब प्राण प्रतिष्ठा हो रही है तो कहते हैं जल्दबाजी कर रही है भाजपा’, ‘यानि चित भी मेरी पट भी मेरी’ ‘और नही ंतो क्या, ऐसे में यदि मंदिर बनने में वक्त लगता तो कहते देखा इनकी नीयत मंदिर बनाने की कभी थी ही नहीं, ये तो केवल चुनाव...
शिवाजी के किलों की कहानी बताती है ‘हिन्दवी स्वराज्य दर्शन’
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, धर्म कर्म, लेख-आलेख

शिवाजी के किलों की कहानी बताती है ‘हिन्दवी स्वराज्य दर्शन’

  - प्रो. (डॉ) संजय द्विवेदी लेखक लोकेन्द्र सिंह बहुमुखी प्रतिभा के धनी हैं। कवि, कहानीकार, स्तम्भलेखक होने के साथ ही यात्रा लेखन में भी उनका दखल है। घुमक्कड़ी उनका स्वभाव है। वे जहाँ भी जाते हैं, उस स्थान के अपने अनुभवों के साथ ही उसके ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक महत्व से सबको परिचित कराने का प्रयत्न भी वे अपने यात्रा संस्मरणों से करते हैं। अभी हाल ही उनकी एक पुस्तक ‘हिन्दवी स्वराज्य दर्शन’ मंजुल प्रकाशन से प्रकाशित हुई है, जो छत्रपति शिवाजी महाराज के किलों के भ्रमण पर आधारित है। हालांकि, यह एक यात्रा वृत्तांत है लेकिन मेरी दृष्टि में इसे केवल यात्रा वृत्तांत तक सीमित करना उचित नहीं होगा। यह पुस्तक शिवाजी महाराज के किलों की यात्रा से तो परिचित कराती ही है, उससे कहीं अधिक यह उनके द्वारा स्थापित ‘हिन्दवी स्वराज्य’ या ‘हिन्दू साम्राज्य’ के दर्शन से भी परिचित कराती है। हम सब जानते हैं क...