Thursday, July 18

मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने श्रमवीरों के मेधावी बच्चों को किया सम्मानित

नोनी-बाबू मेधावी शिक्षा सहायता’ योजना के तहत बच्चों को दो-दो लाख रुपए के प्रदान किए चेक
जशपुर जिले से कक्षा 10वीं की छात्रा कु. मोना यादव और कु. उमा बरेठ को मिला सम्मान
सीएम ने छात्रों को दीं उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं
बोले- आगे भी माता-पिता के साथ जिले और प्रदेश का नाम रोशन करें
मुख्यमंत्री आवास रायपुर में आयोजित जनदर्शन कार्यक्रम में प्रदेश भर के 13 बच्चों को  किया गया सम्मानित
जशपुरनगर 04 जुलाई 2024/छत्तीसगढ़ की विष्णु सरकार के सुशासन में प्रदेश के श्रमवीरों के बच्चों का भविष्य संवर रहा है। आज राजधानी स्थित मुख्यमंत्री आवास में जनदर्शन की शुरुआत, प्रदेश के श्रमिकों के मेधावी बच्चों के सम्मान के साथ हुआ। जहां  मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने ‘नोनी-बाबू मेधावी शिक्षा सहायता’ योजना के तहत श्रमिक परिवार के दसवीं और बारहवीं के 13 मेधावी बच्चों को दो -दो लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की। इस राशि का उपयोग इन बच्चों के सुनहरे भविष्य और आगे की पढ़ाई के लिए हो सकेगा। श्रमवीरों और उनके मेधावी बच्चों को साय सरकार पूरा सम्मान दे रही है।
जशपुर जिले से कक्षा 10वीं की दो छात्रा को मिला सम्मान 
दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में प्रावीण्य सूची में स्थान हासिल करने वाले प्रदेश भर के  श्रमवीरों के 13 मेधावी बच्चों को मुख्यमंत्री नोनी-बाबू मेधावी शिक्षा सहायता योजना के तहत एक लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि और स्कूटी के लिए एक लाख रुपए सहित प्रति विद्यार्थी दो लाख रुपए का चेक वितरित किया गया है। जिसमें जशपुर जिले से कक्षा 10वीं की दो छात्रा कु. मोना यादव और कु. उमा बरेठ भी शामिल है। इन छात्राओं ने माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित परीक्षा वर्ष 2023-24 में 10वीं की मेरिट में टॉप-10 में जगह बनाई है। योजना के तहत इन दोनों छात्रा को मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने ‘ दो-दो लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान कर दोनों को उनके  उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं । इस दौरान वहां मौजूद छात्राओं के माता-पिता और उनके अभिभावकों को भी मुख्यमंत्री श्री ने बधाई दीं।
पंजीकृत निर्माणी श्रमिकों के मेधावी बच्चों को प्रदान किए गए चेक
जनदर्शन कार्यक्रम से पहले  पंजीकृत निर्माणी श्रमिकों के बच्चों को ‘नोनी-बाबू मेधावी शिक्षा सहायता’ योजना के अंतर्गत 26 लाख रूपए की सहायता राशि प्रदान करने के साथ ही मुखमंत्री श्री साय ने सभी को उच्च शिक्षा के लिए बधाई और शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम में श्रम मंत्री श्री लखन लाल देवांगन भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री श्री साय ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में टॉप 10 में स्थान अर्जित करने वाले पंजीकृत श्रमिकों के 13 मेधावी बच्चों को इस योजना के तहत  दो-दो लाख रुपए की सहायता राशि का चेक वितरित किए। मेधावी बच्चों को प्रदान किए गए दो-दो लाख रूपए की राशि में एक लाख रुपए प्रोत्साहन स्वरूप और एक लाख रूपए स्कूटी खरीदने के लिए दिए गए है।
दसवीं की मेरिट में छात्रा मोना यादव और उमा बरेठ ने टॉप-10 में जगह बनाई है 
यहां यह उल्लेखनीय है कि इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बच्चों को, जो कक्षा 10वीं एवं 12वीं में शिक्षा सत्र 2023-24 में अध्ययनरत तथा छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित परीक्षा वर्ष 2023-24 में टॉप-10 सूची में है, उन्हें इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित किया गया है। जशपुर जिले से कक्षा 10वीं की दो सम्मानित दोनों छात्रा ने 10वीं की मेरिट में टॉप-10 में जगह बनाई है। जिसमें छात्रा कु. उमा बरेठ ने 97.67 प्रतिशत के साथ सातवां स्थान और छात्रा कु. मोना यादव ने 97.17 प्रतिशत के 10वां स्थान साथ हासिल किया है।  13 मेधावी बच्चों में कक्षा 10वीं में जशपुर जिले से कुमारी मोना  यादव एवं उमा बरेठ, गरियाबंद जिले से कुमारी होनिशा, महासमुंद जिले से कुमारी डेनिसा, रायगढ़ जिले से कुमारी बबीता, सूरजपुर जिले से आयुष कुमार, बलरामपुर जिले से कुमारी अंशिका, राजनांदगांव जिले से कुमारी वंशिका, बालोद जिले से तोषण कुमार, खोमेन्द्र, कुमारी पद्मनी, जिज्ञासा एवं कांकेर जिले से कक्षा 12वीं की छात्रा कुमारी वेदिका का नाम शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *