मुख्य सचिव का निर्देश जैविक खाद को बढ़ावा देने चलाए अभियान:

रायपुर, 26 फरवरी 2021/ मुख्य सचिव ने आज सिविल लाईन रायपुर स्थित चिप्स कार्यालय से राज्य के सभी संभागायुक्त, कलेक्टर, मुख्य वन संरक्षक और समस्त जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक ली। बैठक में मुख्य रूप से गोधन न्याय योजना के तहत बनाए जा रहे वर्मी कम्पोस्ट के शत-प्रतिशत उपयोग के संबंध में चर्चा की गई। बैठक में अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू और प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री राकेश चतुर्वेदी भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े।
श्री जैन ने कहा है कि जैविक खाद को बढ़ावा देने के लिए गोधन न्याय योजना के तहत तैयार किए जा रहे वर्मी कम्पोस्ट खाद का विक्रय किसानों एवं वानिकी और उद्यानिकी से जुड़े विभागों को किया जाना है। इसके लिए खरीफ के फसल की बोनी से पहले आवश्यक खाद की मात्रा का आंकलन किया जाए और खाद के विक्रय की व्यवस्था की जाए। श्री जैन ने कहा है कि विभागों और किसानों की सुविधानुसार खाद के विक्रय के लिए नजदीक के क्षेत्र में केन्द्र बनाया जाए और इसका व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए। मुख्य सचिव ने राज्य के बड़े और उन्नतशील किसानों को जैविक खाद चैम्पियन के रूप में चिन्हांकित करने और जैविक खाद के उपयोग के प्रति प्रोत्साहन देने के निर्देश भी दिए हैं। गर्मी की फसल के दौरान कृषि विभाग द्वारा दो प्रकार के प्रदर्शन क्षेत्र तैयार किए जाएंगे, जिसमें जैविक खाद और रासायनिक खाद के उपयोग से फसल उत्पादन का गुणात्मक तुलना किया जा सकेगा और किसानों को जैविक खाद के इस्तेमाल के लिए प्रेरित किया जा सकेगा।
मुख्य सचिव श्री जैन ने कोविड-19 के टीकाकरण के संबंध में चर्चा करते हुए कोविड-19 के जांच में बढ़ोत्तरी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी केन्द्रों में अधिक से अधिक संख्या में कोरोना संक्रमण की जांच की प्रक्रिया प्रारंभ की जाए। कोविड-19 के संक्रमण से बचने दिशा-निर्देशों का पालन करने लोगों में जनजागरूकता लाने व्यापक रूप से प्रचार करने कहा। श्री जैन ने कोरोना वारियर के रूप में फ्रंटलाईन में कार्य करने वाले कर्मियों का शत-प्रतिशत टीकाकरण के निर्देश दिए।
बैठक में कृषि, वन, उद्यानिकी, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सचिव, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति, अपेक्स बैंक और मार्कफेड के अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *