सिर्फ वोट बैंक के कारण धर्मांतरण राष्ट्र हित में नहीं है रोकने को तुरंत बने जाँच आयोग: डॉक्टर ममता साहू

 

राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष अ.भा. तैलिक साहू महासभा डॉ. ममता साहू ने कहा कि धर्मांतरण का जाल कितना गहरा,व्यापक,घिनौना और राष्ट्रव्यापी है,ये लोग अभी तक भोले और मासूमों को अपना शिकार बनाते थे,अब वे मूक-बधिर बालकों को भी निशाना बनाने का अमानवीय अपराध कर रहे हैं,कई बच्चे लापता हैं,इनको आतंकी गतिविधियों में शामिल किए जाने की आशंका है!
इनका यह षड्यंत्र आज का नहीं है,इस्लाम के भारत में प्रवेश के साथ ही धर्मांतरण का कुचक्र शुरू हो गया था,इस षड्यंत्र का स्वरूप राष्ट्रव्यापी है तथा इसके कई रूप सामने आ चुके हैं।इसका प्रभाव साहू समाज के लोगो मे अधिक देखा जा रहा हैं,कोरोना काल में पीड़ितों की सहायता के लिए संपूर्ण देश पूर्ण समर्पण के साथ जुटा है परंतु,जेहादी और मिशनरी अपने इस घिनौने एजेंडे को लागू करने में लगे हैं,जहां यह कानून नहीं है,वहां तो,इनके लिए मैदान खुला है, डॉ ममता साहू ने कहा कि धर्मांतरण बहुत गंभीर विषय है,इसका राजनीति के लिए इस्तेमाल नहीं होना चाहिए,मोदी सरकार के विकास के एजेंडे पर जोर देते हुए कहा संविधान ने सभी को अपना-अपना धर्म मानने की छूट दी है,धर्म की आजादी का अर्थ विदेशी फंडिंग के सहारे देश में धर्मांतरण की छूट देना नहीं हैl धर्मांतरण के सहारे वोट बैंक की राजनीति राष्ट्र हित में नहीं है।छत्तीसगढ़ प्रदेश साहू संघ की कोर कमेटी की बैठक श्री अर्जुन हिरवानी प्रदेश अध्यक्ष की अध्यक्षता में साहू छात्रावास टिकरापारा रायपुर में संपन्न हुई,जिसमें प्रमुख रुप से श्री ताम्रध्वज साहू गृह मंत्री छत्तीसगढ़ शासन,श्री धनेंद्र साहू विधायक,श्री विपिन साहू संरक्षक,श्री अरुण साहू सांसद,श्री मोतीलाल साहू कार्यकारी अध्यक्ष,डॉक्टर ममता साहू राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष,श्री संदीप साहू राष्ट्रीय युवा अध्यक्ष,श्री सियाराम साहू पिछड़ा वर्ग आयोग,चंदूलाल साहू पूर्व सांसद,श्री थानेश्वर साहू संरक्षक,श्रीमती रामशिला साहू पूर्व मंत्री,श्री चुन्नीलाल साहू पूर्व विधायक,श्री प्रीतम साहू ,श्री वीरेंद्र साहू,श्री तोखन साहू,श्री चैतराम साहू पूर्व विधायक श्री खिलावन साहू,श्री दयाराम साहू पूर्व विधायक उपस्थित हुए और धर्मांतरण विषय पर विस्तृत चर्चा हुई। साहू समाज में अधिक लोग ईसाई बन रहे हैं,उस पर कैसे रोक लगाया जाए, सभी वक्ताओं ने अपने विचार और सुझाव दिए,कोर ग्रुप की इस बैठक में समाज हित में महत्वपूर्ण फैसला लिया गया।
डॉ ममता साहू ने आगे कहा कि अब धर्मांतरण के इस घिनौने स्वरूप की व्यापक जांच के लिए एक जांच आयोग बनाना चाहिएl

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *