कांग्रेस अवसरवादी है, केरल में CPM के विरुद्ध है तो बंगाल में CPM के साथ, यही कांग्रेस का चरित्र है- डॉ रमन

*कांग्रेस ने बदरुद्दीन अजमल की पार्टी एआईयूडीएफ के साथ गठबंधन कर असम के साथ छला किया है- डॉ रमन*

*प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने असम में असम की संस्कृति, सुरक्षा और विकास के लिए कार्य किया

*डिब्रूगढ़* (असम). छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस अवसरवादी संगठन है, सत्ता के लिए वह उन दलों से भी गठबंधन कर लेता है जिसका वो विरोध करता रहा है। कांग्रेस केरल में CPM के विरुद्ध चुनाव लड़ रहा है तो बंगाल में CPM के साथ मिलकर चुनाव के मैदान में है। यही कांग्रेस का असली चरित्र है। डॉ रमन ने आगे कहा कि उसी तरह काग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई जिस बदरुद्दीन अजमल के तैयार नहीं थे. उसी की पार्टी एआईयूडीएफ के साथ कांग्रेस ने गठबंधन कर लिया। विशुद्ध रुप से साम्प्रदायिक पार्टी के लिए गठबंधन करके कांग्रेस ने असम की जनता के साथ छल और धोखा किया है। डॉ रमन सिंह ने यह बातें दुलियाजान विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी श्री तेरस ग्वाला जी के पक्ष में प्रचार करते हुए कहीं।

*भाजपा सरकार में 15 साल तक कोई गरीब कभी भूखा नहीं सोया*

डॉ रमन ने कहा कि छत्तीसगढ़ की 15 साल तक मुझे सेवा करने का अवसर मिला, मैंने 15 साल तक गांव, गरीब, किसानों का विकास किया। हमने एक रुपया किलो चावल की योजना बनाई, इस योजना का फल यह हुआ कि आज छत्तीसगढ़ में कोई गरीब भूखा नहीं सोया। हमने किसानों को बिना ब्याज के ऋण देना शुरू किया, घर-घर में बिजली कनेक्शन पहुंचाने का काम किया। लेकिन जब से कांग्रेस की छत्तीसगढ़ में सरकार बनी है, किसान, युवा, महिला, बेटियां सभी रो रहे हैं। विकास के काम ठप्प हो गए हैं। भ्रष्टाचार और कमीशन का खेल चल रहा है।

*प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने असम में किए तीन बड़े काम*

पूर्व मुख्यमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पीएम श्री नरेन्द्र मोदी ने असम के लिए तीन बड़े काम किए, पहला असम की संस्कृति को बचाने का काम किया। दूसरा असम की सुरक्षा और तीसरा असम का विकास करने का काम किया है। लगभग 50 वर्षों तक बोडो आंदोलन चला, कई लोगों की जानें इसमें गई लेकिन भाजपा की सरकार में ये आंदोलन ख़त्म हुआ। कांग्रेस ने कभी इसका समाधान नहीं किया लेकिन मोदी जी ने इस समस्या को हल कर दिया।

हर नामघर के विकास के लिए लिए राज्य सरकार ने 2.5 लाख रुपए की व्यवस्था। असम दर्शन के तहत 9000 नामघरों में कार्य चल रहा है। गोपीनाथ बोरदोलोई जी, भूपेन्द्र हज़ारिका जी भाजपा सरकार ने भारत रत्न से सम्मानित कर असम की गौरव को बढ़ाया है। श्रीमंत शंकरदेव जी के जन्म स्थल को विकसित करने के लिए भारत सरकार और असम सरकार 188 करोड़ का प्रोजक्ट लेकर आयी। माधवदेव कलाक्षेत्र को 43 करोड़ की लागत से विकसित किया जा रहा है।

असम की सीमाओं में पड़ोसी देशों से बड़ी संख्या में लगातार घुसपैठियों का आना हुआ, लेकिन कांग्रेस ने अपनी आँखे मूँदे रखी। भाजपा ने बॉर्डर से आने वाले घुसपैठ को बंद किया, बॉर्डर पर सैटेलाइट के माध्यम से, स्मार्ट फेसिंग के माध्यम से और सुरक्षा गश्त बढ़ाकर घुसपैठ को रोकने का काम किया।

डॉ रमन सिंह ने असम में भाजपा सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों को बताते हुए कहा कि भाजपा ने असम के लोगों को उनकी ज़मीन का मालिकाना अधिकार दिया। 3 लाख 30 हज़ार से अधिक लोगों को माटी पट्टा (ज़मीन का पट्टा) भाजपा ने दिया। कांग्रेस सरकार में सड़क नहीं बन पास रही थी क्योंकि भूमि पट्टे ke अभाव में ज़मीन का मुआवज़ा नहीं मिल पास रहा था। विकास थम गया था। अब ज़मीन का पट्टा भी मिल रहा है, मुआवज़ा भी मिल रहा है और सड़क भी बन रही है। 6 साल में 5 बड़े ब्रिज बने। केंद्र और राज्य के संयुक्त प्रयास से 11,500 km की सड़कें आज असम में बन रही हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में न सिर्फ असम बल्कि पूरे उत्तर पूर्व भारत में विकास की नई गाथा शुरु हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *