माकपा का धमतरी जिला सम्मेलन : संगठन बढ़ाने, आंदोलन फैलाने का आव्हान ; समीर कुरैशी पुनः सचिव निर्वाचित

 

 

धमतरी। संगठन को मजबूत करने और जन समस्याओं पर आंदोलन का विस्तार करने के आव्हान के साथ मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी का 7वां धमतरी जिला सम्मेलन आज संपन्न हुआ। सम्मेलन में आगामी तीन वर्षों के लिए 6-सदस्यीय जिला समिति का चुनाव किया गया, जिसके सचिव समीर कुरैशी निर्वाचित किये गए। सर्वसम्मति से मनीराम देवांगन, रेमन यादव, सरला शर्मा, सुभीत निषाद और महेश शांडिल्य जिला समिति सदस्य निर्वाचित किये गए।

माकपा राज्य सचिव संजय पराते ने सम्मेलन का उदघाटन किया। अपने संबोधन में उन्होंने मोदी सरकार की कॉर्पोरेटपरस्त नीतियों और उसके खिलाफ चल रहे देशव्यापी संघर्षों की ओर सम्मेलन का ध्यान आकर्षित करते हुए कहा कि यदि देश बचाना है, तो इसकी संप्रभुता और संविधान को भी बचाना होगा, जिस पर यह सरकार बड़े पैमाने पर हमले कर रही गई। किसान विरोधी कानूनों और मजदूर विरोधी श्रम संहिता के खिलाफ पूरे देश मे विकसित हो रहे साझा आंदोलन को देश की अर्थव्यवस्था को बचाने का आंदोलन बताते हुए उन्होंने कहा कि यह आंदोलन मजदूर-किसानों की क्रयशक्ति को बढ़ाने और इसके जरिये घरेलू बाजार में मांग बढ़ाने का आंदोलन है, ताकि हमारी अर्थव्यवस्था मंदी से बाहर निकल सकें। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार सार्वजनिक संपत्तियों को कौड़ियों के मोल लुटाकर तथा कृषि क्षेत्र में कॉर्पोरेट घरानों को घुसाकर देश को कॉर्पोरेट गुलामी की ओर धकेलना चाहती है, जिसके खिलाफ पूरे देश की जनता संघर्ष कर रही है। माकपा नेता ने इस राजनैतिक चुनौती का मुकाबला करने के लिए संगठन को मजबूत बनाने तथा जन संघर्षों को फैलाने का आव्हान किया।

पार्टी जिला सचिव समीर कुरैशी ने धमतरी जिले की राजनैतिक परिस्थितियों में हस्तक्षेप योग्य जन समस्याओं को चिन्हित करते हुए तथा विगत तीन वर्षों में पार्टी द्वारा चलाये गए संघर्षों के अनुभवों की रिपोर्ट और आय-व्यय का लेखा-जोखा पेश किया। बहस के बाद यह रिपोर्ट सर्वसम्मति से पारित की गई। जिला सम्मेलन ने कोरबा में होने जा रहे 7वें राज्य सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए मनीराम देवांगन, सरला शर्मा, रेमन यादव और महेश शांडिल्य के नाम तय किये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *