Sunday, July 21

सभी नगरीय निकायों का बनेगा डेवलपमेंट प्लान, उप मुख्यमंत्री अरुण साव ने दिए निर्देश

*विभागीय कामकाज में कसावट लाने कहा, जिम्मेदारी तय कर कार्यों में ढिलाई व लापरवाही पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश*

*उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव ने की नगरीय प्रशासन विभाग के कार्यों की समीक्षा*

*बारिश के पहले सभी नालों-नालियों की सफाई सुनिश्चित करने के दिए निर्देश*

*नगरीय निकायों में परिसीमन का काम 18 जुलाई तक पूर्ण करने कहा*

रायपुर. 18 जून 2024. उप मुख्यमंत्री तथा नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री अरुण साव ने आज मंत्रालय में विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होंने विभिन्न विभागीय योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुए कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने आगामी बारिश के मौसम को देखते हुए सभी नगरीय निकायों में नालों-नालियों की सफाई बरसात के पहले सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने जिला मुख्यालयों से संभागीय मुख्यालय आने-जाने के लिए सुलभ पब्लिक ट्रांसपोर्ट की कार्ययोजना तैयार करने के भी निर्देश दिए।

उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव ने नगरीय प्रशासन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर सूडा (SUDA) और विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की और आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने नगरीय निकायों के कार्यों में कसावट लाने को कहा। उन्होंने काम में ढिलाई और लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की जिम्मेदारी तय कर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विभाग के कार्यों का फील्ड में परिणाम दिखना चाहिए। नागरिकों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं मुहैया कराने में नगरीय निकायों की गंभीरता और सक्रियता दिखनी चाहिए। उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि लोकसभा आम निर्वाचन के लिए लागू आदर्श आचार संहिता के कारण कार्यों में जो सुस्ती और धीमापन आ गया था, उसे तत्काल खत्म कर कार्यों में तेजी लाएं। जहां काम बंद हैं या अप्रारंभ हैं, वहां तुरंत काम शुरू कराएं।

श्री साव ने समीक्षा बैठक में सभी नगरीय निकायों के सुव्यवस्थित और योजनाबद्ध विकास के लिए सिटी डेवलपमेंट प्लान तैयार करने को कहा। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को सभी निकायों में डेवलपमेंट प्लान के अनुसार ही विकास और जन सुविधाएं विकसित करने के कार्य स्वीकृत करने के निर्देश दिए। श्री साव ने शहरी क्षेत्रों में प्रधानमंत्री आवास योजना के साथ ही अफोर्डेबल हाउसिंग (Affordable Housing) की विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने इन योजनाओं के काम पूर्ण गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण करने को कहा। उन्होंने हाउसिंग परियोजनाओं में जिओ-टेगिंग का ऑडिट कराने भी कहा।

श्री साव ने बैठक में नगरीय प्रशासन विभाग की योजनाओं की भौतिक और वित्तीय प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने नगरीय निकायों को उपलब्ध कराए जा रहे 15वें वित्त आयोग की राशि का सदुपयोग सुनिश्चित करने पुख्ता सिस्टम बनाने को कहा। श्री साव ने प्रदेश भर के नगरीय निकायों में कार्यरत अभियंताओं की कुशलता और दक्षता बढ़ाने कार्यशाला आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगरीय निकायों में आम निर्वाचन के लिए वार्डों के परिसीमन का काम 18 जुलाई तक पूर्ण करने को कहा जिससे कि आरक्षण प्रक्रिया और मतदाता सूची तैयार करने का काम समय पर प्रारंभ किया जा सके।

श्री साव ने आज मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना, श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स, अमृत मिशन, गौरव पथ निर्माण और संपत्ति कर संग्रहण की समीक्षा की। बैठक में नगर पंचायतों के नगर पालिकाओं में और नगर पालिकाओं के नगर निगमों में उन्नयन पर भी चर्चा हुई। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के सचिव डॉ. बसवराजु एस., संचालक श्री कुंदन कुमार, सूडा के सीईओ श्री शशांक पाण्डेय, अपर संचालक श्री पुलक भट्टाचार्य और संयुक्त संचालक श्री एस.के. सुंदरानी भी समीक्षा बैठक में मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *