Friday, July 12

धमतरी : जिले की प्राथमिक शालाओं में आयोजित किया गया अंगना मे शिक्षा कार्यक्रम

कलेक्टर, सीईओ, पुलिस अधीक्षक, डीएफओ सहित अन्य अधिकारी हुई शामिल
स्मार्ट माताओं को किया गया सम्मानित

धमतरी 02 जुलाई 2024/ बच्चों में शिक्षा गुणवत्ता सुधार के लिए सुघ्घर पढ़वईया कार्यक्रम के तहत अंगना में शिक्षा का आयोजन जिले की 170 प्राथमिक स्कूलों में कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें सीईओ जिला पंचायत सुश्री रोमा श्रीवास्तव प्राथमिक शाला मुजगहन, पुलिस अधीक्षक श्री आंजनेय वार्ष्णेय प्राथमिक शाला शंकरदाह, डीएफओ श्री जाधव कृष्ण प्राथमिक शाला रूद्री पहुंचे। इसके अलावा जिले की अन्य प्राथमिक शालाओां में अन्य जिला स्तरीय अधिकारियां ने अपनी सहभागिता निभायी। इस दौरान नन्हे-मुन्ने बच्चे नीले रंग के गणवेश में काफी उत्साहित दिखे। इसका जिला स्तरीय कार्यक्रम शासकीय प्राथमिक शाला क्रमांक-1 में आयोजित किया गया।
जिला स्तरीय कार्यक्रम में कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी ने माताआें को संबोधित करते हुए कहा कि बच्चों को खेल-खेल में सीखने का यह प्रयास सराहनीय है और यह प्रयास और भी विशेष हो जाता है जब मातायें इसमें शामिल होती है। मां बच्चें की पहली गुरू होती है, माताओं के छोटे-छोटे प्रयासों से बच्चों को बहुत कुछ सीखने को मिलता है। हर माता चाहती है कि उनका बच्चा आगे बढ़े, पढ़ाने का तनाव न ले। खेलकूद, कला भी शिक्षा का अंश है। अगर परिवार के सदस्य मिलकर बच्चों को छोटी-छोटी चीजें सीखाये ंतो घर में पढ़ाई का माहौल बनता है, जिससे बच्चे का बौद्धिक विकास होता है।
इस दौरान कलेक्टर सुश्री गांधी ने बच्चों को रोचक तरीकों से ज्ञानवर्धक गतिविधियों से रूबरू कराने बनाये गये स्टॉलों का भी निरीक्षण किया। इस दौरान बच्चों को शारीरिक विकास अंतर्गत संतुलन बनाकर चलना, कूदना, पेपर फोल्डिंग, बौद्धिक विकास अंतर्गत रंग पहचानना, वर्गीकरण, क्रम से लगाना, भाषा विकास के तहत् चित्र वाचन, पढ़ना, गणित पूर्व तैयारी के लिए आकार पहचानना, गिनना, अंक पहचानना और जोड़-घटना के बारे में खेल-खेल में सीखया गया। साथ ही बच्चों के शारीरिक विकास अंतर्गत रंग भरना, लिखना, और भाव पहचानने के बारे में बताया गया।
इस अवसर पर पार्षद श्री राजेश ठाकुर ने भी कार्यक्रम को भी संबोधित किया। अंगना में शिक्षा कार्यक्रम की एसआरजी प्रीति शांडिल्य, डीआरजी श्रीमती अनुसुईया सिन्हा, माया खत्री को कलेक्टर ने प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। इस अभियान में अपनी महत्वपूर्ण्ार् भूमिका निभाने वाली शिक्षिका श्रीमती रूपल चंदेल, श्रीमती अनुराधा सोरी और प्रिया कामड़े को को भी प्रमाण पत्र प्रदान किया। कार्यक्रम में उपस्घ्थित वहीं स्मार्ट माता के रूप में मिथला रजक, महेश्वरी जोशी और शीलू बंजारे को भी सम्मानित किया। इस अवसर पर माताओं ने अंगना में पढ़ाई कार्यक्रम अंतर्गत बच्चों को सीखायी जाने वाली बातों से बच्चों के मानसिक एवं शारीरिक विकास पर पड़ने वाले प्रभावों को भी साझा किया। गौरतलब है कि प्रदेश में माताओं को जोड़कर बच्चों को घर पर ही सीखने में सहयोग देने के लिए अंगना में शिक्षा कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम में बीईओ श्री अमित तिवारी, प्राचार्य श्रीमती बीना मैथ्यू, एपीसी एनके साहू, के अलावा अन्य गणमान्य नागरिक एवं शिक्षक-शिक्षिकायें उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *