Wednesday, July 24

धमतरी :  स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह के तहत जिले में आयोजित किए गए विभिन्न कार्यक्रम

स्वच्छता, वृक्षारोपण सहित जल बचाओ-कल बचाओ के लिए लोगों को किया गया प्रेरित
–00–
धमतरी 14 जून 2024/जिले में स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह का आयोजन 5 से 12 जून तक किया गया। इस दौरान जिले के  धमतरी, कुरूद, मगरलोड, नगरी विकासखंड के ग्राम पंचायतों में स्वच्छ हरित ग्राम आधारित रैली निकाला गया और विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। कार्यक्रम के समापन अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों, स्वसहायता समूह की दीदियों का सम्मान किया गया। वहीं पंचायत में समूह की महिलाओं को जोड़कर जल  कर एवं स्वच्छता शुल्क प्रति परिवार से कलेक्शन करने के संबंध में बताया गया। बिहान अंतर्गत गठित स्व सहायता समूह ग्राम संगठन को स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह कार्यक्रम में सम्मिलित कर सहभागिता एवं कर प्रदाय कर सहयोग करने जागरूक किया गया।
स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह के आयोजन में सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक, मेट, बिहान समूह की महिलाएं, ग्रीन आर्मी स्वच्छता समूह की दीदी, स्वयं सेवी संस्था प्रथम, प्रदान संस्था, एग्रीकेट सोसायटी, अजीम प्रेमजी फाउडेंशन, राष्ट्रीय सेवा योजना एवं विकासखंड स्तर के अधिकारी-कर्मचारी एवं ग्रामीणजन बड़ी संख्या में भाग लेकर कार्यक्रम को सफल बनाये।
ग्राम पंचायतों में ग्रामीणों के द्वारा श्रमदान के माध्यम से सार्वजनिक स्थलों की साफ-सफाई, दीवार लेखन, स्वच्छता एवं पेयजल पर आधारित नारा लेखन, स्वच्छता के तहत सामुदायिक शौचालय की साफ-सफाई, की गईं। साथ ही पर्यावरण जागरूकता हेतु पुराने वृक्षों पर जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीणजनों द्वारा रक्षा सूत्र बांधकर वृक्षों की रक्षा करने का वचन लिया गया। वर्षा प्रारंभ होने के पूर्व तालाब एवं सार्वजनिक स्थानों पर वृक्षारोपण हेतु गढ्ढे की खुदाई किया गया, ताकि हरियाली हेतु समय पर वृक्षारोपण की जा सके। प्रधानमंत्री आवास एवं जनमन आवास हितग्राहियों के घरों के पास गढ्ढा की खुदाई वृक्षारोपण हेतु प्रेरित किया गया। ठोस अपशिष्ट प्रबंधन केन्द्रों (कचरा सेंटर) की साफ-सफाई, कचरा संग्रहण एवं स्वच्छता कर संबंधित मॉडल पर चर्चा की गई। गीला एवं सूखा कचरा का घरेलू स्तर पर उचित प्रबंधन,  नाडेप एवं वर्मी कम्पोस्ट पिट निर्माण एवं मरम्मत कार्य ग्रामीणों के द्वारा किया गया। साथ ही समूह की महिलाओं द्वारा पोषक खाद का प्रदर्शन किया गया।
स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह कार्यक्रम के संबंध में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री रोमा श्रीवास्तव ने बताया कि जिले के ग्राम पंचायतों में पानी की आपूर्ति के लिए संचालित नल जल योजनाओं के लिए नियमानुसार जल कर राशि वूसली करने ग्राम पंचायत सरपंच, सचिवों को निर्देशित किया गया। बेहतर आजीविका साधन एवं महिलाओं में सामाजिक सशक्तिकरण की दृष्टिकोण से ग्राम संगठन में समूह की महिलाओं को विभिन्न मुद्दों पर प्रशिक्षित कर आजीविका को बढ़ाने के लिए निरंतर प्रेरित किया गया। ग्राम पंचायत रानीगांव, बनरौद, कोंगेरा, गढ़ियापारा, चर्रा, गुजरा, कण्डेल, अमाली, पीपरछेड़ी(गा), गंगरेल बिन्द्रानवागांव, भड़सिवना, लीलर, डोमा, सांकरा, छिन्दपारा, अर्जुनी, बोड़रा, केरेगांव, जैतपुरी, बेलरगांव, नवागावं (क) में ग्रामीणजन महिला समूह की दीदी, कृषि मित्र, पशु सखी, सक्रिय महिला सदस्य, ग्रीन आर्मी, उद्योग सखी, एफ.एल.सी.आर.पी. द्वारा पंचायतों में स्वच्छ हरित रैली, जल कर वसूली, शासकीय भवनों, आंगबनाड़ी केन्द्र, व्यक्तिगत शौचालय एवं सामुदायिक शौचालय की साफ-सफाई आदर्श नागरिक होने का परिचय दिया गया। इसी तरह नगरी विकासखंड के ग्राम पंचायत आमगांव में पी.व्ही.जी.टी. परिवार का आधार कार्ड बनाने इस अभियान के तहत सर्वे भी किया गया। गांव गांव में जल बचाओ कल बचाओ का नारा लगाते हुए जल संरक्षण एवं स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने की अपील लोगों से किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *