घरेलू हिंसा आईपीएस शशि मोहन सिंह निर्देशित शार्ट फ़िल्म समस्या के जड़ में जाकर प्रहार करती है

 

 

रायपुर 13 मार्च 2021 (IMNB NEWS AGENCY) मजदूर ओर गरीब तबके में घरेलू हिंसा का प्रमुख कारण शराब है। जिसे आईपीएस शशि मोहन सिंह के निर्देशन में बने शार्ट फ़िल्म घरेलू हिंसा में दर्शाया गया है। घरेलू हिंसा शार्ट फिल्म का  निर्माण तो घरेलू हिंसा की सूचना पुलिस तक पहुचाने जनजागरण अभियान के लिए बनी है। लेकिन यह शार्ट फ़िल्म घरेलू हिंसा के जड़ में छुपे शराब रूपी दानव को भी बेनकाब कर रही है।

सड़क दुर्घटना ओर घरेलू हिंसा का बहुत बड़ा कारण शराब को भी माना जाता है। ऐसी घटनाओ की समीक्षा में समाजिक संगठनो ने यह बात बार बार कही है। इस बार आईपीएस शशि मोहन सिंह ने समाज मे जागरूकता लाने नशे का विरोध करने में कोई कसर अपनी इस शॉट फ़िल्म में नही छोड़ी है। आप को बता दे आईपीएस शशि मोहन सिंह एक थियेटर कलाकार है,नक्सल समस्या को समाजिक समस्या मानते हुए उन्हें थियेटर भी किया है। युवा पीढ़ी को ड्रग्स ,शराब  के नशे के  खिलाफ  जंग छेड़ते रहते है। शशि मोहन सिंह एक ऐसे पुलिस अधिकारी है जो अपराध हो या सामाजिक समस्या उसके जड़ में जाकर उसमे सुधार करने प्रयासरत रहते है। विभाग में उनके ऐसे कई उदाहरण है। समाज में वह  कभी अभिनय के बहाने तो कभी कविताओं के माध्यम से तो कभी सोशल मीडिया में जनता से सीधे रूबरू होकर वह जनजागरूकता अभियान छेड़ते रहते हैं। लॉक डाउन में भी उन्होंने अपना एक वीडियो जारी कर घर मे रहने के लिए लोगो को बड़े ही नाटकीय अंदाज में चेतवानी ओर अपील कर आम जनता को अपने परिवार के साथ घर पर सुरक्षित रहने की सलाह दी थी। घरेलू हिंसा की सूचना पुलिस को दे इस पर एक शॉट फ़िल्म उन्होने बनाई है। जिसमे पुलिस प्रशासन को सूचना देने के साथ घरेलू हिंसा के जड़ में प्रहार किया है। आईपीएस शशि मोहन सिंह की शार्ट फिल्म बड़े ही तेजी के साथ सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *