Monday, April 15

*कर्मचारी नेताओं ने पेंशन प्रकरणों में भ्रष्टाचार पर रोक लगाने की मांग की*

पेंशनर प्रकरण में निराकरण को लेकर  विभाग से लेकर कोषालय व भुगतान करने वाले बैंक तक 20 से 50 हजार रुपये की पैकेज के सहारे लूट की खबर पर छ ग कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के प्रदेश संयोजक कमल वर्मा ने वाट्स अप पोस्ट में ऐसे लोगो के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने को कहा है। इसी मामले पर छत्तीसगढ़ प्रदेश शिक्षक फेडरेशन के प्रान्ताध्यक्ष राजेश चटर्जी ने भी कहा है कि यदि आरोप सही है तो यह बेहद गम्भीर मामला है। हमारे पेंशनर साथियों का आर्थिक शोषण करने में सक्रिय ट्रेजरी के दलालों के विरुद्ध प्रमाण सहित लिखित शिकायत दर्ज करना चाहिए। राज्य कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष अरुण तिवारी ने भी इस कृत्य की आलोचना की है और वित्त विभाग को संज्ञान में लेकर पेंशनर्स को आर्थिक शोषण से बचाने जरूरी कदम उठाने की मांग की है। इसी कड़ी में कर्मचारी नेता अश्वनी चेलक, डॉ विनोद वर्मा,खुमान सिंह ठाकुर, छबि सिंह, सरोज खोब्रागड़े,ए के कनेरिया, ताराशंकर बोस,रीखीराम साहू, धनीराम जंघेल, बोधीराम निषाद आदि ने भी अपनी प्रतिक्रिया में पेंशनरों के साथ राज्य हो रहे उपेक्षा और शोषण पर चिन्ता जाहिर कर शासन से भ्रष्टाचार पर तुरन्त रोक लगाने की मांग की है।
            छत्तीसगढ़ राज्य संयुक्त पेंशनर फेडरेशन के अध्यक्ष वीरेन्द्र नामदेव तथा भारतीय राज्य पेंशनर्स महासंघ  छत्तीसगढ़ प्रदेश के अध्यक्ष जे पी मिश्रा ने राज्य मे पेंशनरों के साथ हो रहे आर्थिक दोहन को लेकर चिन्ता व्यक्त करने पर *कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के संयोजक कमल वर्मा सहित सभी कर्मचारी नेताओं प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते हुए आभार जताया है।*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *