कोरोना से मुक्ति,संडे स्कूल में बच्चों ओर शिक्षकों ने किया दुनिया बचाने प्रार्थना

रायपुर। प्रदेश में कोरोना की भयावह लहर को देखकर बच्चे भी सहम गए हैं। उन्होंने इससे मुक्ति से लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। संडे स्कूल के सैकड़ों बच्चों ने प्रभु के समक्ष नन्हें हाथ जोड़े और इस विश्व व्यापी विपदा से लोगों को निजात दिलाने का आग्रह किया।
बच्चों ने अपने प्रार्थना निवेदन में कहा कि

उनसे स्वयं से या नगर, शहर, राज्य व देश में कहीं से किसी ने ऐसा गुनाह किया हो जिससे आपको दुख हुआ है तो हम सबको माफ करें। इ, प्रायश्चित की विशेष प्रार्थना को स्वीकार कर कोरोना से मुक्ति दिलाएं।

विश्व में एक साल से फैल रहे कोरोना महामारी से मानव जाति को बचाने में लगे मेडिकल स्टाफ को सुरक्षा प्रदान कीजिए। उन्हें भी संक्रमण व खतरे से बचाकर रखिए। अस्पताल में भर्ती प्रत्येक मरीजों को उनकी बीमारों से चंगाई देने का आग्रह भी बच्चों ने किया। सभी परिवारों में आत्मिक उन्नति व आपसी प्रेम व शांति हो। देश के सभी धर्म गुरुओं, नेताओं, अधिकारियों का भी प्रभु से मार्गदर्शन करने का निवेदन किया गया ताकि वे इस महामारी से लोगों को बचाने में अच्छा प्रशासन दे सकें। संडे स्कूल के जयप्रकाश किरण व डिक्सन बैंजामिन ने बताया कि प्रार्थना श्रृंखला में शिक्षक भी शामिल हुए। इसी तरह प्रेयर आफ पावर ग्रुप के सदस्यों ने कोरोना महामारी से बचाने के लिए ईश्वर से दुआएं मांगीं। मंजूला लिविंगस्टन के नेतृत्व में देशभर के प्रार्थना योद्धाओं ने सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक अनवरत प्रार्थनाएं कीं। इसमें रायपुर, दुर्ग, भिलाई, राजनांदगांव, धमतरी, बिलासपुर, रायगढ़, अंबिकापुर, भाटापारा, नागपुर, कोरबा, भंडारा, बिलासपुर, उदयपुर, जोरा, अहमदाबाद समेत कई प्रमुख नगरों से भक्तजन जुड़े। हर शहर के समूह को आधा-आधा घंटा दुआ के लिए दिया गया था। लिविंग्स्टन के अनुसार हमें प्रभु पर विश्वास है कि वे कोरोना से सबको मुक्ति दिलाएंगे। प्रभु ने हमेशा मनुष्यों के अपराध क्षमा किए हैं। हम सब उन्हें पिता कहते हैं। पिता बच्चों को माफ करेंगे।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *