छत्तीसगढ़ी संस्कृति को आगे बढ़ाना, विकास का पैमाना: 29 लाख रूपए के विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन

गृह मंत्री द्वारा तालाब के सौंदर्यीकरण, नाली निर्माण और
सीसी रोड निर्माण स्वीकृत करने की घोषणा

रायपुर, 06 फरवरी 2021/ गृह, जेल, लोक निर्माण, धार्मिक न्याय, धर्मस्व पर्यटन मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू तथा वन, परिवहन, पर्यावरण एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने आज राजनांदगांव जिले के ग्राम इरईकला में 29 लाख रूपए के विभिन्न विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। गृह मंत्री श्री साहू ने इस अवसर पर 13 लाख 20 हजार रूपए की लागत से निर्मित पशु औषधालय, 9 लाख 30 हजार रूपए की लागत से निर्मित 100 मीट्रिक टन खाद्य गोदाम भवन तथा 6 लाख 50 हजार रूपए की लागत से निर्मित महिला भवन का लोकार्पण किया और शिव मंदिर निर्माण एवं आंगनबाड़ी केन्द्र क्रमांक 3 भवन निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया। उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर ग्राम के तालाब सौंदर्यीकरण, नाली निर्माण के अतिरिक्त सीसी रोड निर्माण के लिए 10 लाख रूपए स्वीकृत करने की घोषणा की।

गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति को आगे बढ़ाना छत्तीसगढ़ के विकास का पैमाना है। इसकी शुरूआत राजिम माघी पुन्नी मेला से किया गया है, पहले इसे राजिम कुंभ मेला के नाम से जाना जाता था। राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ की संस्कृति को बढ़ाने के लिए तीजा, पोला, हरेली, आदिवासी दिवस, करमा जयंती जैसे तीज-त्यौहारों को बढा़वा दिया गया है। छत्तीसगढ़ के स्थानीय खेल भौंरा, गिल्ली डंडा, गेड़ी को पहचान दिलाने का काम भी राज्य सरकार कर रही है। छत्तीसगढ़ के लोक व्यंजन फरा, चीला, अइरसा जैसे पकवान की पहचान देश की विभिन्न राज्यों तक पहुंची है। उन्होंने कहा कि गोधन न्याय योजना के माध्यम से गोबर खरीदी की जा रही है। इससे लोगों की आय में वृद्धि हो रही है और वे अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति कर रहे हैं। गौठानों को उद्योग केन्द्र के रूप में विकसित किया जा रहा है, जहां महिला स्वसहायता समूह द्वारा मुर्गी पालन, बकरी पालन, मशरूम उत्पाद के साथ रोजगारमूलक आर्थिक गतिविधियां संचालित हो रही है। राज्य शासन द्वारा गरीब, मजदूर के बच्चों की अंग्रेजी में शिक्षा के लिए अंग्रेजी माध्यम स्कूल प्रारंभ किए गए हैं।

वन एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि राज्य शासन द्वारा धान खरीदी, ऋण माफी, सभी के लिए राशन कार्ड बनाने जैसे विभिन्न कार्य किए गए हैं। कर्ज माफी से किसान लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने कहा कि शासन ने राशन कार्ड बनाने की योजना आरंभ की है, जिसमें हर वर्ग के परिवारों का राशन कार्ड बनाया जा रहा है। जिनका अभी तक राशन कार्ड नहीं बना है, वे आवेदन कर अपना राशन कार्ड बनवा सकते हैं।

कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ में छत्तीसगढ़ अनुसूचित जाति प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री भुनेश्वर बघेल, अंत्यावसायी वित्त निगम के अध्यक्ष श्री धनेश पाटिला, राजगामी संपदा न्यास के अध्यक्ष श्री विवेक वासनिक, सरपंच श्रीमती तुलसी साहू, कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री डी श्रवण एवं अन्य जनप्रतिनिधि तथा अधिकारी भी शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *